शीर्ष युक्तियाँ

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार
आंकड़ों के अनुसार समीक्षाधीन सप्ताह में अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) में रखा देश का मुद्राभंडार भी 11.1 करोड़ डॉलर बढ़कर 5.047 अरब डॉलर हो गया।

जरुरी जानकारी | विदेशी मुद्रा भंडार लगातार दूसरे सप्ताह बढ़कर 547.25 अरब डॉलर पर

जरुरी जानकारी | विदेशी मुद्रा भंडार लगातार दूसरे सप्ताह बढ़कर 547.25 अरब डॉलर पर

मुंबई, 25 नवंबर देश का विदेशी मुद्रा भंडार 18 नवंबर को समाप्त सप्ताह में 2.537 अरब डॉलर बढ़कर 547.252 अरब डॉलर पर पहुंच गया। इसमें लगातार दूसरे भारत का विदेशी मुद्रा भंडार सप्ताह वृद्धि हुई है। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

आरबीआई के आंकड़ों के अनुसार, 11 नवंबर को समाप्त सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार 14.72 अरब डॉलर बढ़कर 544.72 अरब डॉलर पर पहुंच गया था। अगस्त 2021 के बाद देश के विदेशी मुद्रा भंडार में इस सप्ताह सबसे तेज वृद्धि हुई है।

गौरतलब है कि भारत का विदेशी मुद्रा भंडार अक्टूबर 2021 में विदेशी मुद्रा भंडार 645 अरब डॉलर के सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गया था। वैश्विक घटनाक्रम भारत का विदेशी मुद्रा भंडार के बीच केंद्रीय बैंक के रुपये की विनियम दर में तेज गिरावट को रोकने के लिए मुद्रा भंडार का उपयोग करने की वजह से इसमें कमी आई है।

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार- कल, आज और कल

आर बी आई के रिपोर्ट के अनुसार 4 जून, 2021 तक भारत का विदेशी मुद्रा भंडार भारत की विदेशी मुद्रा भंडार 605 अरब डालर ( लगभग 44 लाख करोड़ रुपए ) की हो गई है । यह अब तक की सर्वाधिक बड़ी मुद्रा भंडार भारत का विदेशी मुद्रा भंडार भारत का विदेशी मुद्रा भंडार है । 2014 में विदेशी मुद्रा भंडार में सिर्फ 304 अरब डालर थे। पिछले 7 सालों में विदेशी मुद्रा भंडार में दुगने की वृद्धि होना एक बहुत ही सुखद संदेश है और वो भी तब जब हम राफेल, अपाचे सहित कई लाख करोड़ का सैन्य सामग्री विदेशों से खरीद चुके हैं ।

कभी इसी विदेशी मुद्रा के लिए हमारे देश के प्रधानमंत्री चंदशेखर जी ने देश का सोना गिरवी रखा था और उस समय रिजर्व बैंक के गवर्नर प्रख्यात अर्थशास्त्री मन मोहन सिंह ही थे । मनमोहन सिंह के पिछले 2 कार्यकालों में कोई बड़े आयुध खरीद नहीं हुए यहां तक कि देश के रक्षा मंत्री ने संसद में कहा था कि हमारे पास हेलीकॉप्टर खरीदने के भी पैसे नही है और मन मोहन सिंह ने कहा था कि पैसे पेरो पर नहीं उगते हैं ।

मंदी की आहट के बीच अच्छी खबर, 2 महीने बाद भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में 20 करोड़ डॉलर की बढ़त

मंदी की आहट के बीच अच्छी खबर, 2 महीने बाद भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में 20 करोड़ डॉलर की बढ़त

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के वीकली स्टैटिकल सप्लीमेंट के आंकड़ों के मुताबिक 7 अक्टूबर तक भारत का विदेशी मुद्रा भंडार बढ़कर 532.87 अरब डॉलर हो गया. देश का विदेशी मुद्रा भंडार में पिछले सप्ताह की तुलना में 20.4 करोड़ भारत का विदेशी मुद्रा भंडार डॉलर का इजाफा हुआ है. 29 भारत का विदेशी मुद्रा भंडार जुलाई को समाप्त हुए सप्ताह के बाद 2 महीने में पहली बार इजाफा दर्ज हुआ है. सितंबर 30 को समाप्त हुए पिछले सप्ताह के अंत तक के आंकड़ा 532.66 अरब डॉलर था.

शुक्रवार को जबकि रुपये की बात करें तो वो 1 डॉलर के मुताबिक भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 82.35 रुपये पर बना हुआ है. सोमवार को रुपये ने अभी तक का सबसे लो रिकॉर्ड 82.68 रुपये दर्ज किया था.

देश का विदेशी मुद्रा भंडार लगातार दूसरे हफ्ते बढ़कर 547.25 अरब डॉलर पर

देश का विदेशी मुद्रा भंडार लगातार दूसरे हफ्ते बढ़कर 547.25 अरब डॉलर (Dollar) पर

नई दिल्ली (New Delhi)/मुंबई (Mumbai) , . आर्थिक र्मोचे पर सरकार के लिए राहत देने वाली खबर है. विदेशी मुद्रा भंडार में लगातार दूसरे हफ्ते इजाफा हुआ है. देश का विदेशी मुद्रा भंडार 18 नवंबर को समाप्त हफ्ते में 2.537 अरब डॉलर (Dollar) बढ़कर 547.252 अरब डॉलर (Dollar) पर पहुंच गया है.

रिजर्व बैंक (Bank) ऑफ इंडिया (आरबीआई (Reserve Bank of India) ) की ओर से शुक्रवार (Friday) को जारी आंकड़ों के मुताबिक विदेशी मुद्रा भंडार 18 नवंबर को समाप्त हफ्ते में 2.537 अरब डॉलर (Dollar) बढ़कर 547.252 अरब डॉलर (Dollar) पर भारत का विदेशी मुद्रा भंडार पहुंच गया. इससे पिछले हफ्ते 11 नवंबर को समाप्त हफ्ते में विदेशी मुद्रा भंडार 14.73 अरब डॉलर (Dollar) बढ़कर 544.72 अरब डॉलर (Dollar) के पार पहुंच गया था. रिजर्व बैंक (भारत का विदेशी मुद्रा भंडार Bank) के मुताबिक अगस्त, 2021 के बाद देश के विदेशी मुद्रा भंडार में इस हफ्ते सबसे तेज वृद्धि हुई थी.

रेटिंग: 4.51
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 208
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *