शीर्ष युक्तियाँ

तेजी से बढ़ रहा क्रिप्टो करंसी का क्रेज

तेजी से बढ़ रहा क्रिप्टो करंसी का क्रेज
कोडिंग और डिकोडिंग (Coding and Decoding) तकनीक के जरिए क्रिप्टोकरंसी के ट्रांजैक्शन का पूरा लेखा-जोखा रखा जाता है। इसे हैक करना आसान नहीं है। यही वजह है कि इस क्रिप्टोकरंसी में धोखाधड़ी की संभावना बहुत कम होती है। क्रिप्टोकरंसी किसी भी केंद्रीय बैंक से स्वतंत्र होती है। इसमें पूरा रिस्क निवेशकों का होता है। यह इसकी सबसे बड़ी कमी है। (फाइल फोटो)

एक Bitcoin की कीमत पहुंची 20 लाख रुपए के करीब, रातोंरात करोड़पति बना रहा है क्रिप्टोकरंसी में निवेश

बिजनेस डेस्क। क्रिप्टोकरेंसी (CryptoCurrency) बिटकॉइन (Bitcoin) की तरफ निवेशकों का झुकाव बढ़ता जा रहा है। जो लोग रातोंरात करोड़पति बनना चाहते हैं, उनके लिए इस क्रिप्टोकरंसी में निवेश कारगर साबित हो रहा है। इसकी वजह यह है कि हाल ही में बिटकॉइन ने एक बार फिर सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। इस डिजिटल करंसी ने 26,900 डॉलर का नया ऑलटाइम हाई बनाया है। इससे तत्काल मुनाफे के लिए निवेशक इसकी तरफ रुख कर रहे हैं। क्रिप्टोकरंसी में आई इस तेजी से एक बिटकॉइन की कीमत करीब 19.90 लाख रुपए हो गई है।
(फाइल फोटो)

इस समय दुनियाभर में क्रिप्टोकरंसी (CryptoCurrency) बिटकॉइन (Bitcoin) का क्रेज तेजी से बढ़ रहा है। इसमें बड़े पैमाने पर निवेश हो रहा है। इस वजह से इसकी कीमत में तेजी से उछाल आ रहा है। बता दें कि नवंबर महीने में बिटकॉइन का भाव 18 हजार डॉलर के स्तर को पार चुका था। (फाइल फोटो)

Coinverse

क्रिप्टो करेंसी के बढ़ाते क्रेज के चलते आज हर कोई इसमें निवेश करना चाहता है, पर अच्छी क्रिप्टो करेंसी पहले से ही बहुत महंगी हैं.

Cryptocurrency Investors: साल 2022 में क्या करें क्रिप्टो निवेशक, जानिए

क्रिप्टो करेंसी ने साल 2021 में अपने निवेशको को एक अच्छा रिटर्न दिया है. यंही वजह है की, क्रिप्टो करेंसी लोगो को अपनी तरफ आकर्षित कर रही है.

Cryptocurrency Trading in India: बनना चाहते है सफल क्रिप्टो ट्रेडर तो अपनाये ये 5 टिप्स

आज हर कोई क्रिप्टो करेंसी में निवेश करना चाहता है. इसका क्रेज भारत में भी बहुत तेजी से बढ़ रहा है. भारत में भी युवाओ से लेकर महिलाएं तक इसमें निवेश कर रही हैं,

Alert: क्या आप भी करते है Cryptocurrency का इस्तेमाल तो हो जाइये सावधान, लुट गए 779 अरब रूपये

BITCOIN क्यों तेजी से बढ़ रहा क्रिप्टो करंसी का क्रेज है ज्यादा लोकप्रिय? Bitcoin kya hai?

👉 आपको पता है कि bitcoin की शुरुआत नेटवर्किंग भुगतान के लिए ही किया गया था। जहां क्रेडिट और डेबिट कार्ड से भुगतान करने पर दो से तीन परसेंट लेनदेन शुल्क लगता है वही bitcoin से भुगतान करने से कोई शुल्क नहीं लगता। इस कारण से भी इसका उपयोग काफी हो रहा है।

👉 यह सुरक्षित और बहुत ही तेज है जिसके वजह से लोग इसका उपयोग करने के लिए काफी प्रोत्साहित हो रहे हैं और इस की ओर कदम बढ़ा रहे हैं।

👉अन्य क्रेडिट कार्ड में क्रेडिट लिमिट होती है जबकि इसमें किसी भी प्रकार की लिमिट नहीं होती और ना ही आपको कैश लेकर घूमने की जरूरत पड़ती है।

👉यह बहुत ही सुपर फास्ट तो है साथ ही दुनिया में हर जगह पर कारगर है इसकी कोई लिमिट नहीं है।

👉 बहुत बार ऑनलाइन भुगतान करने वाली कार्ड को किसी कारण से बैंक ब्लॉक कर देती है परंतु bitcoin में यह समस्या नहीं आती है। उसका अकाउंट कभी भी ब्लॉक नहीं होता।

BITCOIN के नुकसान क्या है?

Bitcoin Kya Hai जैसे कि आप जान ही गए होंगे यह ज्यादा मात्रा में लोगों द्वारा डिजिटल तरीके से उपयोग किया जा रहा है लेकिन इसके कई नुकसान भी हैं जिसे ध्यान में रखना बहुत जरूरी है। जैसे आप जानते हैं कि bitcoin को कंट्रोल करने के लिए कोई बैंक या सरकार नहीं है। यह डिजिटल तरीके से कंट्रोल होता है। इसीलिए तो इसपे विश्वास करना मुश्किल हो सकता है क्योंकि यदि आपका अकाउंट हैक हो गया तो आप सारे bitcoin तो को देंगे साथ ही आप पुलिस के पास शिकायत दर्ज भी नहीं करा सकते। इसकी कीमत हमेशा घटते बढ़ते रहती है इसके वजह से बहुत भारी नुकसान भी हो सकता है और कई लोगों के लिए डिप्रेशन का कारण भी बन सकता है।

Betcoin kya hai

Bitcoin Wallet

BITCOIN माइनिंग क्या होता है?

आम भाषा में तो हम माइनिंग का मतलब खुदाई करके किसी धातु को निकालने के प्रोसेस को समझते हैं लेकिन bitcoin का तो कोई भौतिक स्वरूप है नहीं उसे कहीं से खुदाई करके तो नहीं निकाल सकते हैं। इस प्रकार यहां पर bitcoin माइनिंग की इस अर्थ को को समझना तो गलत है तो हम बता दे कि bitcoin माइनिंग का रियल मतलब होता bitcoin का निर्माण करना। कंप्यूटरिंग तरीके से नए bitcoin को बनाने के तरीके को ही bitcoin माइनिंग कहा जाता है। bitcoin माइनिंग एक ऐसी प्रोसेस है जिसमें कंप्यूटिंग पावर का उपयोग कर ट्रांजैक्शन प्रोसेस किया जाता है और नेटवर्क को सुरक्षित रखा जाता है। bitcoin माइनिंग का मुख्य उद्देश है bitcoin नोड को सुरक्षित बनाना और नेटवर्क को छेड़छाड़ से तेजी से बढ़ रहा क्रिप्टो करंसी का क्रेज तेजी से बढ़ रहा क्रिप्टो करंसी का क्रेज दूर रखना।

आज आप हमारा पोस्ट पढ़ के जान ही गए होंगे कि Bitcoin Kya Hai अगर आप को हमारा पोस्ट पसंद आया हो शेयर कीजीए ओर comment कर k बताए कि आप को हमारा पोस्ट कैसा लगा और आप के लिए usefull हैं कि नहीं।

Budget 2022-23: निर्मला सीतारमण से बजट में क्या-क्या चाहती है क्रिप्टोकरेंसी इंडस्ट्री?

क्रिप्टोकरेंसी के रेगुलेशन को लेकर तस्वीर साफ होने से उन लोगों का डर दूर होगा, जिन्होंने इसमें इन्वेस्ट किया है। उनका मानना है कि दूसरे देशों की तरह इंडिया में भी क्रिप्टो लेकर ठोस नियम और कानून होने चाहिए।

इस बार बजट (Budget 2022) का सबसे ज्यादा इतंजार क्रिप्टोकरेंसी इंडस्ट्री (Cryptocurrency Industry) को है। निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) 1 फरवरी को बजट पेश करेंगी। वह बजट में क्रिप्टोकरेंसी को लेकर सरकार के रुख से पर्दा उठा सकती हैं। बजट में क्रिप्टो के लिए व्यापक नियम और कानून पेश होने की भी उम्मीद है। पिछले कुछ सालों में क्रिप्टो ने निवेशकों को मालामाल किया है।

क्रिप्टोकरेंसी के देश में सबसे बड़े एक्सचेंज वजीरएक्स के सीईओ निश्चल शेट्टी ने कहा, "रेगुलेटरी क्लेरिटी के अलावा हमें सरकार से क्रिप्टो पर टैक्स के नियमों में स्पष्टीकरण का भी इंतजार है।" उन्होंने कहा कि कोविड-19 की तीसरी लहर के बावजूद इंडिया में इकोनॉमिक रिकवरी दिख रही है।

संबंधित खबरें

ONGC -Oil India के लिए खट्टी-मीठी सिफारिश, कमेटी ने सरकार को भेज दी अपनी यह रिपोर्ट

Investing in 2023: अगले साल निवेश को लेकर कैसे बनाएं स्ट्रैटजी? ये चार थीम फैसला लेने में करेंगे मदद

PVR को Avatar 2 और Pathaan की बदौलत रेवेन्यू बढ़ने की उम्मीद, जानिए इन फिल्मों में क्या है खास

क्रिप्टोकरेंसी को लेकर भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) और सरकार का रुख उदार नहीं रहा है। आरबीआई ने तो बहुत पहले इस पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया था। लेकिन, सुप्रीम कोर्ट ने उसके इरादों पर पानी फेर दिया। इधर, सरकार भी इसे बहुत रिस्की मानती है। सरकार को डर है कि इस पर किसी तरह का नियंत्रण नहीं होने से इसके निवेशकों का पैसा डूबने का खतरा है।

शेट्टी ने कहा कि क्रिप्टोकरेंसी को लेकर कानून बनाना अब भी दूर की कौड़ी है, लेकिन बजट में इस बारे में सरकार का रुख साफ होने से इस एसेट क्लास को लेकर टैक्स को लेकर उलझन खत्म हो सकती है। दुनियाभर में क्रिप्टो में इन्वेस्टमेंट का क्रेज बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि बजट में इसके बारे में पॉलिसी आने से न सिर्फ इसमें इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टमेंट को बढ़ावा मिलेगा बल्कि इस सेक्टर में रोजगार के तेजी से बढ़ रहा क्रिप्टो करंसी का क्रेज मौके का भी फायदा उठाया जा सकेगा।

WazirX के बाद अब इस क्रिप्टो-एक्सचेंज पर क्यों हुई ED की कार्रवाई? ये है पूरी कहानी

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो

by बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो ।।
Published - Saturday, 13 August, 2022

फाइल फोटो

क्रिप्टो करेंसी में निवेश करने वालों के दिन अच्छे नहीं चल रहे है. एक तो बाज़ार में गिरावट का माहौल है, वहीं दूसरी तरफ सरकारी स्तर पर होने वाली सख्ती ने उनकी परेशानी बढ़ा दी है. हाल ही में प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने क्रिप्टो-एक्सचेंज प्लेटफॉर्म वजीरएक्स (WazirX) पर कार्रवाई की थी, अब 'वॉल्ड (Vauld)' के खिलाफ एक्शन हुआ है. वॉल्ड पहले से ही आर्थिक मुश्किलों का सामना कर रहा है, ऐसे में ED की कार्रवाई से उसकी स्थिति बद से बदतर हो सकती है.

रेटिंग: 4.52
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 709
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *