फोरेक्स टुटोरिअल

म्युचुअल फंड के प्रकार

म्युचुअल फंड के प्रकार
क्या आपको Small Cap Fund में निवेश करना चाहिए या नहीं? इस बारे में रिचा अग्रवाल कहती हैं कि शेयर बाजारों में पिछली बार जब स्मॉल कैप कंपनियों का इंडेक्स मजबूत हुआ तो 300% तक चढ़ गया था. जबकि इनका और ऊपर चढ़ना कंपनी-कंपनी के हिसाब बदलता रहता है. इस हिसाब से देखा जाए तो अभी स्मॉल कैप कैटेगरी के अभी थोड़ा और ऊपर चढ़ने की संभावना है.
लेकिन इस बारे में MyWealthGrowth के को-फाउंडर हर्षद चेतनवाला कहते हैं कि निवेशकों को अचानक से आए इस रिटर्न से प्रभावित नहीं होना चाहिए क्योंकि Small Cap और Mid Cap फंड के म्युचुअल फंड के प्रकार साथ काफी ज्यादा जोखिम होता है, साथ ही ये बहुत volatile नेचर के होते हैं.
(File Photo : Aajtak)

स्मॉल कैप म्यूचुअल फंड का एवरेज रिटर्न

Mutual Funds के जंगल में कहां लगाएं दांव? किस प्रकार के फंड में करें निवेश, एक्सपर्ट ने बताई काम की बात

म्यूचुअल फंड निवेशक हमेशा यही सोचते रहते हैं कि किस तरह के फंड में निवेश करना चाहिए। म्यूचुअल फंड निवेश की भाषा में कहें तो किस फंड कैटेगरी या कौन-कौन सी फंड की कैटेगरी हैं जिनमें आपको निवेश करना चाहिए। आइए इस पर एक्सपर्ट की राय जानते हैं।

नई दिल्ली, धीरेंद्र कुमार। ज्यादातर म्यूचुअल फंड निवेशक अपना पूरा ध्यान एक ही सवाल पर बनाए रखते हैं, वो ये कि उन्हें किस फंड में निवेश करना चाहिए। असल में, अगर सारा ध्यान इस सवाल पर है तो ये पक्का हमें उस रास्ते पर डाल देगा जहां हम गलत चुनाव ही करेंगे। सबसे अहम सवाल तो ये है कि आपको किस प्रकार के फंड में निवेश करना चाहिए। म्यूचुअल फंड निवेश की भाषा में कहें, तो किस फंड कैटेगरी या कौन-कौन सी फंड की कैटेगरी हैं जिनमें आपको म्युचुअल फंड के प्रकार निवेश करना चाहिए।

म्‍यूचुअल फंड और फंड ऑफ फंड: इनमें से इंवेस्‍टमेंट के लिए कौन सा ऑप्‍शन है बैटर

म्‍यूचुअल फंड और फंड ऑफ फंड: इनमें से इंवेस्‍टमेंट के लिए कौन सा ऑप्‍शन है बैटर

तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है। (फोटोः Freepik)

म्यूचुअल फंड एक प्रकार का इंवेस्‍टमेंट ऑप्‍शन है, जहां विभिन्न निवेशकों के धन को एक साथ जमा किया जाता है और स्टॉक, अन्य मुद्रा बाजार के साधनों और परिसंपत्तियों में निवेश किया जाता है। म्यूचुअल फंड आमतौर पर फंड मैनेजरों द्वारा प्रबंधित किए जाते हैं जो निवेशकों के लिए पूंजी और आय हासिल करने के लिए धन आवंटित करते हैं।

वहीं फंड ऑफ फंड (एफओएफ) विभिन्न निवेशकों से जमा किए गए फंड के मामले में म्यूचुअल फंड के समान है। फंड ऑफ फंड पोर्टफोलियो में फंड के विभिन्न अंतर्निहित पोर्टफोलियो होते हैं। आइए आपको भी बताते हैं कि आखि‍र दोनों काम कैसे करते हैं। इन दोनों के ही क्‍या लाभ और नुकसान है। म्‍यूचुअल फंड और फंड ऑफ फंड कितने प्रकार के होते हैं। इन बातों का जानना काफी जरूरी है।

Complete guide on Mutual funds (Hindi)

नमस्ते ! क्या आपने अभी तक निवेश करना शुरू नहीं किया है ? क्या आपको इस बात का डर है की आपको स्टॉक्स पिक करना नहीं आता या आपके पास इतना समय नहीं है ? तो इस कोर्स में आप यह जानेंगे की कैसे आप म्यूचुअल फंड्स से एक अच्छी शुरुआत कर सकते है, यह म्यूचुअल फंड्स कैसे काम करते है और कैसे आप अपने लिए एक बेहतर म्यूचुअल फण्ड चुन सकते है।

  • म्यूच्यूअल फंड्स से परिचय
  • म्यूच्यूअल फंड्स के प्रकार
  • म्यूच्यूअल फंड्स कैसे काम करते है
  • सही म्यूच्यूअल फण्ड कैसे चुने

About Course

हममे से ज़्यादातर लोगो को बचत और निवेश के म्युचुअल फंड के प्रकार बारे में अपने कॉलेज के दिनो में ही पता चल जाता है| लेकिन ज़्यादातर लोग म्युचुअल फंड के प्रकार स्टॉक्स में निवेश करने से डरते है| बहुत सारे लोग स्टॉक मार्केट से भागते है क्यूंकि उन्हें घाटा होने का डर रहता है और इसी डर के कारण वह लोग कभी स्टॉक मार्केट में निवेश नहीं कर पाते| लेकिन बहुत कम लोग ये समझ पाते है कि यह स्टॉक मार्केट नहीं बल्कि उनका स्टॉक मार्केट के बारे में आधा-अधूरा ज्ञान होना, इस घाटे का असली कारण है| तो, स्टॉक मार्केट में निवेश की शुरुआत करने का सबसे सही तरीका क्या है? क्या म्यूचुअल फंड्स से शुरुआत करना सही रहेगा? अगर हां, तो वह कौन से म्यूचुअल फंड्स है जिन्हे चुने? ऐसे में बहुत कन्फ़्यूशन होता है, ख़ास कर की तब जब आप शुरुआत कर रहे हों और आपको इसके बारे मे कुछ नहीं पता।

यह कोर्स आपको एक सही रास्ता दिखाएगा कि कैसे आप म्यूचुअल फंड्स से निवेश की शुरुआत कर सकते है, कितने प्रकार के म्यूचुअल फंड्स होते है, यह म्यूचुअल फंड्स कैसे काम करते है और कौन से वह म्यूचुअल फंड्स है जिनसे आप अपने निवेश की यात्रा शुरू कर सकते है| इन सारे सवालों का जवाब आपको इस कोर्स मे मिलेगा!

What you will get?

बचत vs निवेश

चक्रवर्ती बढ़त की विशेषता

  • चक्रवर्ती बढ़त का फायदा

एसेट क्लासेज

  • ऐसेट्स के मुख्य वर्ग

म्यूच्यूअल फंड्स का परिचय

  • म्यूचुअल फ़ंडस क्या है?
  • फ़िक्स्ड डिपॉज़िट vs म्यूचुअल फ़ंडस
  • म्यूच्यूअल फंड्स कैसे काम करते हैं?
  • म्यूचुअल फ़ंडस में निवेश कैसे करे?
  • म्यूचुअल फ़ंड निवेश से जुड़ी समस्याएँ

क्या आपको फाइनेंशियल इंटरमीडियरी की ज़रूरत है?

  • रेगुलर प्लान और डायरेक्ट प्लान
  • डायरेक्ट प्लान क्यूँ बेहतर हैं?

क्या NRIs म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश कर सकते है?

    म्युचुअल फंड के प्रकार
  • क्या NRIs म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश कर सकते है?
  • अमेरिका और कनाडा के NRIs' के लिए स्पेशल रूल
  • NRI इन्वेस्टमेंट पर टैक्सेशन का प्रभाव

Types Of Mutual Fund

1. Investment funds: निवेश फंड मुख्य रूप से कई कंपनियों के शेयरों में निवेश करते हैं। आप शेयरों की कीमत बढ़ाकर या कम करके जीतते हैं या हारते हैं। अगर आप लंबे समय के लिए निवेश करना चाहते हैं तो कैपिटल फंड एक अच्छा विकल्प है। इक्विटी इनवेस्टमेंट फंड्स में जोखिम अधिक होता है और साथ ही, लंबी अवधि के लिए अधिक लाभ भी प्राप्त होता है।

2. Mutual debt fund: ये कम जोखिम वाले म्यूचुअल फंड होते हैं जिनमें मुख्य रूप से सरकारी प्रतिभूतियां होती हैं जिनमें बॉन्ड और ट्रेजरी बिल शामिल होते हैं। Mutual Fund की तुलना में Mutual debt म्युचुअल फंड के प्रकार fund में निवेश करना बहुत कम जोखिम भरा होता है और उन निवेशकों के लिए अच्छा होता है जो थोड़े समय के लिए निवेश करना चाहते हैं।

3. Balanced and hybrid funds: इस प्रकार के म्यूचुअल फंड्स में debt और कैपिटल का कॉम्बिनेशन होता है। ये मध्यम जोखिम वाले म्यूचुअल फंड हैं। हाइब्रिड म्यूचुअल फंड्स में, debt मैनेजर द्वारा debt और इक्विटी अनुपात का निर्धारण किया जाता है और यह फंड के अपेक्षित रिटर्न पर निर्भर करता है।

क्या म्यूचुअल फंड में निवेश करना सही है?

हां, यदि आप लंबे समय के लिए निवेश करना चाहते हैं और न कि यदि आप बहुत कम समय में बहुत पैसा कमाने की उम्मीद करते हैं। इसके साथ ही यह भी मायने रखता है कि आप किस फंड में पैसा लगा रहे हैं। यदि म्युचुअल फंड के प्रकार आप किसी ऐसे फंड में पैसा लगाते हैं जो अच्छी तरह से प्रबंधित है, तो म्युचुअल फंड के प्रकार म्यूचुअल फंड आपको बहुत अच्छे लाभ प्रदान कर सकता है।

SIP (सिस्टेमैटिक इनवेस्टमेंट प्लान) SIP के माध्यम से, आप हर महीने चुनी जाने वाली राशि को स्वचालित म्यूचुअल फंड में निवेश कर सकते हैं। एसआईपी करते समय, आपको अपने द्वारा चुने गए निवेश की राशि और प्रत्येक माह केवल एक बार निवेश की तारीख का चयन करना होगा। जब भी आपके निवेश की तारीख आएगी, पैसा एसआईपी के माध्यम से आपके बैंक खाते से स्वचालित रूप से निवेश किया जाएगा।

म्यूचुअल फंड में कैसे करें निवेश?

आप किसी म्यूचुअल फंड की वेबसाइट से सीधे निवेश कर सकते हैं. अगर आप चाहें तो किसी म्यूचुअल फंड एडवाइजर से भी सलाह ले सकते है. यदि आप सीधे निवेश करते म्युचुअल फंड के प्रकार हैं, तो आप म्यूचुअल फंड योजना के प्रत्यक्ष योजना में निवेश कर सकते हैं। यदि आप एक सलाहकार की मदद से निवेश कर रहे हैं, तो आप एक म्यूचुअल फंड योजना की नियमित योजना में निवेश करते हैं।

अगर आप सीधे निवेश करना चाहते हैं म्युचुअल फंड के प्रकार तो आपको उस म्यूचुअल फंड की वेबसाइट पर जाना पड़ेगा. आप उसके दफ्तर में भी अपने दस्तावेज के साथ जा सकते हैं. म्यूचुअल फंड के डायरेक्ट प्लान में निवेश करने का फायदा यह है कि आपको कमीशन नहीं देना पड़ता है। इसलिए, लंबी अवधि के निवेश में आपके रिटर्न में बहुत वृद्धि होती है। इस तरह से म्यूचुअल फंड में निवेश करने में एक समस्या यह है कि आपको खुद ही म्यूचुअल फंड को लेकर सारी रेसर्च करनी पड़ेगी।

इस म्यूचुअल फंड ने 1 साल में दिया 220% म्युचुअल फंड के प्रकार का रिटर्न, निवेश करें या नहीं?

aajtak.in

म्यूचुअल फंड अलग-अलग तरह के होते हैं. जैसे ब्लूचिप फंड, लार्ज कैप फंड, फार्मा फंड, मिड कैप फंड वगैरह-वगैरह, लेकिन पिछले एक साल में जिस कैटेगरी के म्यूचुअल फंड ने 220% तक रिटर्न दिया है वो स्मॉल कैप म्यूचुअल फंड है. क्या होते हैं स्मॉल कैप म्यूचुअल फंड.
(File Photo : Aajtak)

स्मॉल कैप म्यूचुअल फंड

म्यूचुअल फंड, अलग-अलग कंपनियों की कैपिटल के हिसाब से उनकी बास्केट बनाते हैं और फिर उनमें निवेश करते हैं. छोटी या थोड़ी पूंजी वाली कंपनियों को ‘स्मॉल कैपिटल’ कंपनियों के तौर पर भी जाना जाता है. इसलिए स्मॉल कैप म्यूचुअल फंड ऐसी ही कंपनियों में निवेश करते हैं. इस कैटेगरी का एवरेज रिटर्न कितना है.
(Photo : Getty Images)

रेटिंग: 4.52
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 554
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *