करेंसी ट्रेड

फिबोनाची ने दुनिया को कैसे बदला

फिबोनाची ने दुनिया को कैसे बदला
हमने SBI के पॉजिटिव और नेगेटिव बातों को तो जान लिया है लेकिन क्या SBI में अभी भी इन्वेस्ट किया जा सकता है? इसका जवाब जानने के लिए हमने चार्ट और टूल्स की मदद ली जैसे की ऊपर के इमेज में आप देख ही सकते हैं. हमने चार्ट पे फिबोनाची रीट्रेसमेंट प्लेस किया तो हमें कुछ नए लेवेल्स दिखाई दिए जो SBI के नए टारगेट्स हो सकते हैं?

SBI के शेयर प्राइस कहाँ जा कर रुकेंगे? सभी इन्वेस्टर्स अलर्ट रहें!

स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया जिसे हम SBI के नाम से जानते हैं. यह देश का एकलौता ऐसा बैंक है जो Fortune 500 की लिस्ट में आता है. वैसे तो कुछ 9 कम्पनीज हैं जिन्हें फार्च्यून 500 की लिस्ट में शामिल किया गया है लेकिन बैंकों के मामले में सिर्फ SBI ही है जो इसमें अपनी जगह बना पाया है.

SBI एक मल्टीनेशनल कंपनी है जो बैंकिंग और फाइनेंसियल सर्विसेज प्रोवाइड कराती है. यह इंडिया का सबसे बड़ा बैंक है. इसका विस्तार इतना अधिक है कि इसने अकेले ही एक चौथाई मार्केट शेयर अपने हिस्से में कर रखा है. SBI के पास 45 करोड़ से भी अधिक कस्टमर हैं. 22,000 से भी ज्यादा एक्टिव ब्रांचेज फिबोनाची ने दुनिया को कैसे बदला हैं और 63,000 से भी अधिक एटीएम पूरे देश भर में फैले हुए हैं.

इस बात में कोई शक नहीं कि SBI इंडिया का सबसे बड़ा बैंक है लेकिन क्या यह स्टॉक मार्केट में परफॉरमेंस के मामने में भी सबसे बड़ा बैंक है? आज हम इसी के बारे में डिटेल में जानेंगे.

SBI फिबोनाची ने दुनिया को कैसे बदला के शेयर प्राइस

पिछले ढाई सालों में SBI ने स्टॉक मार्केट में जो परफॉरमेंस दिखाई है उसे चार्ट पर देख कर यकीन करना मुस्किल होता है कि SBI इतना कैसे बढ़ सकता है. मई 2020 में यह स्टॉक 150 के आसपास ट्रेड कर रहा था और मात्र ढाई सालों में आज यह स्टॉक 600 का आंकड़ा भी पार कर चुका है.

SBI

SBI | WEEKLY CHART

तो सवाल ये है कि आखिर ऐसा क्या फिबोनाची ने दुनिया को कैसे बदला बदलाव हो गया कि SBI के इसके शेयर प्राइस आसमान छू रहे हैं. आज हम यही बात करने वाले हैं कि SBI के शेयर प्राइस क्यूँ इतना बढ़ रहा हैं और यह कहाँ पर जा कर रुकेगा? क्या SBI में अभी भी इन्वेस्ट किया जा सकता है? या फिर SBI में इन्वेस्ट करने के फिबोनाची ने दुनिया को कैसे बदला सारे मौके जा चुके हैं? चलिए इन सभी सवालों के जवाब हम जानने की कोशिश करते हैं.

SBI स्टॉक के पॉजिटिव बातें

  • इसका मौजूदा शेयर प्राइस कंपनी के आंतरिक वैल्यू से कम है.
  • स्टॉक अभी भी ओवरबोट ज़ोन में नहीं है जो नए इन्वेस्टर के लिए अच्छी बात है.
  • प्रोमोटर्स द्वारा होल्डिंग्स को प्लेज नहीं किया गया है.
  • बीते साल में रेवेन्यू 5.61% बढ़ी है.
  • क्वार्टरली रेवेन्यू 15.66% बढ़ी है.
  • बीते साल में एनुअल नेट प्रॉफिट 57.88% बढ़ी है.
  • क्वार्टरली नेट प्रॉफिट 65.94% YoY बढ़ा है.
  • बातें हुए साल में इस स्टॉक ने अपने सेक्टर से 12.8% बेहतर परफॉर्म किया है.
  • प्राइस-टू-अर्निंग रेशिओ मात्र 13.12 है जबकि इसके सेक्टर का प्राइस टू अर्निंग रेशिओ 25.22 है.
  • पिछले क्वार्टर में म्यूच्यूअल फंड्स की होल्डिंग्स 0.12% बढ़ी है.
  • पिछले पांच सालों में कंपनी ने 160% CAGR का ग्रोथ किया है.

SBI के नए टारगेट्स क्या हैं?

फिबोनाची रीट्रेसमेंट के अनुसार SBI का जो पिछला मेजर सपोर्ट था वह 509.40 पे था जहाँ पर स्टॉक ने सपोर्ट लिया और आगे बढ़ गया. तो SBI कहाँ पर जा कर रुकेगा? इसका जवाब देना तो बेहद मुस्किल है लेकिन ये ज़रूर बताया जा सकता है कि SBI के नए टारगेट्स क्या होंगे?

जैसा कि चार्ट में दिख रहा है SBI के नए टारगेट्स 731.45, 953.50,1090.75 हो सकते हैं. ये बहुत मुमकिन है कि आने वाले 2-3 सालों में SBI इन सभी टारगेट्स को अचीव फिबोनाची ने दुनिया को कैसे बदला कर ले.

डिस्क्लेमर

डिअर रीडर्स, यह पोस्ट केवल एजुकेशनल पर्पसेज़ के लिए है. हम आपको शेयर बाज़ार में खरीद या बिक्री की सलाह नहीं दे रहे हैं. इन्वेस्टमेंट से जुड़ा कोई भी निर्णय लेने से पहले कृपया अपने फाइनेंसियल एडवाइजर की सलाह अवश्य लें.

डेविड का सितारा

हेक्सग्राम का सबसे आम चित्रण डेविड का सितारा है , जिसे मैगेन डेविड भी कहा जाता है। यह इज़राइल के ध्वज पर प्रतीक है, जिसे यहूदियों ने आमतौर पर पिछले कुछ सदियों से अपने विश्वास के प्रतीक के रूप में उपयोग किया है। यह भी प्रतीक है कि कई यूरोपीय समुदायों ने ऐतिहासिक रूप से यहूदियों को पहचान के रूप में पहनने के लिए मजबूर किया है, विशेष रूप से 20 वीं शताब्दी में नाज़ी जर्मनी द्वारा।

डेविड के स्टार का विकास अस्पष्ट है। मध्य युग में, हेक्साग्राम को अक्सर इज़राइल के बाइबिल के राजा और राजा दाऊद के पुत्र का संदर्भ देते हुए, सुलैमान की सील के रूप में जाना जाता था।

हेक्साग्राम में भी कबालिस्टिक और गुप्त अर्थ था।

1 9वीं शताब्दी में, ज़ीयोनिस्ट आंदोलन ने प्रतीक अपनाया। इन कई संघों के कारण, कुछ यहूदी, विशेष रूप से कुछ रूढ़िवादी यहूदी, विश्वास के प्रतीक के रूप में डेविड स्टार का उपयोग नहीं करते हैं।

सुलैमान की मुहर

सुलैमान की मुहर राजा सुलैमान के पास एक जादुई सिग्नल अंगूठी की मध्ययुगीन कहानियों में उभरती है।

इन में, अलौकिक प्राणियों को बांधने और नियंत्रित करने की शक्ति कहा जाता है। अक्सर, मुहर को हेक्साग्राम के रूप में वर्णित किया जाता है, लेकिन कुछ स्रोत इसे पेंटग्राम के रूप में वर्णित करते हैं।

दो त्रिकोणों की द्वंद्व

पूर्वी, कबालिस्टिक, और गुप्त सर्कल में, हेक्साग्राम का अर्थ आम तौर पर इस तथ्य से निकटता से जुड़ा हुआ है कि यह दो दिशाओं से बना है जो विपरीत दिशाओं में इंगित करता है। यह फिबोनाची ने दुनिया को कैसे बदला नर और मादा जैसे विरोधियों के संघ से संबंधित है। यह सामान्य रूप से आध्यात्मिक और भौतिक के संघ का भी संदर्भ देता है, आध्यात्मिक वास्तविकता तक पहुंचने और भौतिक वास्तविकता ऊपर की तरफ बढ़ती है।

दुनिया की इस अंतःक्रिया को हेर्मेटिक सिद्धांत के रूप में भी देखा जा सकता है "उपरोक्त के रूप में, नीचे।" यह संदर्भ देता है कि एक दुनिया में परिवर्तन दूसरे में परिवर्तन कैसे दर्शाते हैं।

अंत में, त्रिभुज आमतौर पर चार अलग-अलग तत्वों को नामित करने के लिए कीमिया में उपयोग किए जाते हैं। अधिक दुर्लभ तत्व - आग और हवा - बिंदु-नीचे त्रिकोण होते हैं, जबकि अधिक भौतिक तत्व - पृथ्वी और पानी - बिंदु-अप त्रिकोण होते हैं।

संस्करण - समानार्थी।, विलोम शब्द।, अर्थ, उदाहरण

संस्करण संस्कृत की "कृ" धातु में (जिसका अर्थ है 'करना') सम् उपसर्ग मिलकर यह शब्द बनता है। संस्करोति, जिसका साधारण भाषा में अर्थ है 'भली प्रकार करना'। इसी से संस्कार या संस्करण बने जिनका अर्थ है भली प्रकार किया हुआ कार्य या परिष्कृत कार्य।

प्रकाशन व्यवसाय के संबंध में संस्करण का अर्थ है मुद्रित वस्तु का एक बार प्रकाशन। वास्तव में प्रकाशन व्यवसाय के संदर्भ में भी संस्करण का परिष्कृत कार्यवाला अर्थ सटीक बैठता है। किसी भी पांडुलिपि को जब प्रकाशित किया जाता है तो मुद्रित पुस्तक का रूप पांडुलिपि के रूप से कहीं भिन्न होता है, अधिक सुंदर और आकर्षक तथा अपने समग्र रूप में अधिक परिष्कृत होता है। पांडुलिपि का संपादन होता है आवश्यकतानुसार चित्र बनते हैं, प्रेस में मुद्रण होता है, आकर्षक आवरण में भी ग्रंथ सज्जित किया जाता है, तब कहीं जाकर उसका प्रकाशन होता है। पुस्तक का "संस्करण" अपने अर्थ को सचमुच सार्थक करता है। संस्करण का प्रयोग कई अर्थाें में किया जाता है - जैसे, राज संकरण, सामान्य संस्करण और अब पाकेट बुक्स (या सस्ता) संस्करण। राज संस्करण में पुस्तक में कागज अच्छा लगाया जाता है, जिल्दबंदी ऊँचे किस्म की होती है फिबोनाची ने दुनिया को कैसे बदला और उसका मूल्य भी अधिक होता है सामान्य संस्करण, जैसा नाम से स्पष्ट है, सामान्य ही होता है और आम खरीदार को ध्यान में आमदनी को ध्यान में रखते हुए (क्योंकि मध्य वर्ग ही पुस्तकों का सबसे बड़ा पाठक है) अच्छी, महत्वपूर्ण और प्रसिद्ध पुस्तकों के सस्ते संस्करण प्रकाशित करने की प्रथा चल पड़ी है, जो समय के साथ साथ खूब फूली फली है। विदेशों में जिन पुस्तकों के सामान्य संस्करण की फिबोनाची ने दुनिया को कैसे बदला 3000-10000 प्रतियाँ बिकती हैं, उन्हीं के सस्ते संस्करण की 100000 से 200000 प्रतियाँ तक आसानी से बिक जाती हैं। लेखक और प्रकाशक दोनों को ही इससे अधिक लाभ होता है। हमारे देश में भी अब पाकेट बुक्स का प्रकाशन प्रारंभ हो गया है और द्रुत गति से आगे बढ़ रहा है। पुस्तकों का यह संस्करण सर्वाधिक उपयोगी है और पाठक जनता तक इसी की सर्वाधिक पहुँच है, इसीलिए बड़े से बड़े लेखक फिबोनाची ने दुनिया को कैसे बदला अपनी पुस्तकों के सस्ते संस्करण प्रकाशित कराने में आनंदित होते हैं।

SBI के शेयर प्राइस

पिछले ढाई सालों में SBI ने स्टॉक मार्केट में जो परफॉरमेंस दिखाई है उसे चार्ट पर देख कर यकीन करना मुस्किल होता है कि SBI इतना कैसे बढ़ सकता है. मई 2020 में यह स्टॉक 150 के आसपास ट्रेड कर रहा था और मात्र ढाई सालों में आज यह स्टॉक 600 का आंकड़ा भी पार कर चुका है.

SBI

SBI | WEEKLY CHART

तो सवाल ये है कि आखिर ऐसा क्या बदलाव हो गया कि SBI के इसके फिबोनाची ने दुनिया को कैसे बदला शेयर प्राइस आसमान छू रहे हैं. आज हम यही बात करने वाले हैं कि SBI के शेयर प्राइस फिबोनाची ने दुनिया को कैसे बदला क्यूँ इतना बढ़ रहा हैं और यह कहाँ पर जा कर रुकेगा? क्या SBI में अभी भी इन्वेस्ट किया जा सकता है? या फिर SBI में इन्वेस्ट करने के सारे मौके जा चुके हैं? चलिए इन सभी सवालों के जवाब हम जानने की कोशिश करते हैं.

SBI स्टॉक के पॉजिटिव बातें

  • इसका मौजूदा शेयर प्राइस कंपनी के आंतरिक वैल्यू से कम है.
  • स्टॉक अभी भी ओवरबोट ज़ोन में नहीं है जो नए इन्वेस्टर के लिए अच्छी बात है.
  • प्रोमोटर्स द्वारा होल्डिंग्स को प्लेज नहीं किया गया है.
  • बीते साल में रेवेन्यू 5.61% बढ़ी है.
  • क्वार्टरली रेवेन्यू 15.66% बढ़ी है.
  • बीते साल में एनुअल नेट प्रॉफिट 57.88% बढ़ी है.
  • क्वार्टरली नेट प्रॉफिट 65.94% YoY बढ़ा है.
  • बातें हुए साल में इस स्टॉक ने अपने सेक्टर से 12.8% बेहतर परफॉर्म किया है.
  • प्राइस-टू-अर्निंग फिबोनाची ने दुनिया को कैसे बदला रेशिओ मात्र 13.12 है जबकि इसके सेक्टर का प्राइस टू अर्निंग रेशिओ 25.22 है.
  • पिछले क्वार्टर में म्यूच्यूअल फंड्स की होल्डिंग्स 0.12% बढ़ी है.
  • पिछले पांच सालों में कंपनी ने 160% CAGR का ग्रोथ किया है.

SBI के नए टारगेट्स क्या हैं?

फिबोनाची रीट्रेसमेंट के अनुसार SBI का जो पिछला मेजर सपोर्ट था वह 509.40 पे था जहाँ पर स्टॉक ने सपोर्ट लिया और आगे बढ़ गया. तो SBI कहाँ पर जा कर रुकेगा? इसका जवाब देना तो बेहद मुस्किल है लेकिन ये ज़रूर बताया जा सकता है कि SBI के नए टारगेट्स क्या होंगे?

जैसा कि चार्ट में दिख रहा है SBI के नए टारगेट्स 731.45, 953.50,1090.75 हो सकते हैं. ये बहुत मुमकिन है कि आने वाले 2-3 सालों में SBI इन सभी टारगेट्स को अचीव कर ले.

डिस्क्लेमर

डिअर रीडर्स, यह पोस्ट केवल एजुकेशनल पर्पसेज़ के लिए है. हम आपको शेयर बाज़ार में खरीद या बिक्री की सलाह नहीं दे रहे हैं. इन्वेस्टमेंट से जुड़ा कोई भी निर्णय लेने से पहले कृपया अपने फाइनेंसियल एडवाइजर की सलाह अवश्य लें.

रेटिंग: 4.84
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 794
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *