वायदा का उपयोग करके व्यापार कैसे करें

क्रिप्टोकरेंसी ब्रोकर्स

क्रिप्टोकरेंसी ब्रोकर्स
नोवोग्रैट्स ने ब्लूमबर्ग को बताया कि 2021 के दौरान मार्केट में कुछ कम महत्वपूर्ण चीजें आ गई थीं, क्योंकि रिटेल इन्वेस्टर्स एनएफटी में अधिक आ गए और इस दौरान क्रिप्टों में असामान्य निवेश हुआ.

Crypto Currency में निवेश को लेकर क्या कहते हैं एक्सपर्ट और बड़े अरबपति

Your access to this site has been limited by the site owner

If you think you have been blocked in error, contact the owner of this site for assistance.

If you are a WordPress user with administrative privileges on this site, please enter your email address in the box below and click "Send". You will then receive an email that helps you regain access.

Block Technical Data

Block Reason: Access from your area has been temporarily limited for security reasons.
Time: Wed, 23 Nov 2022 23:28:51 GMT

Wordfence is a security plugin installed on over 4 million WordPress sites. The owner of this site is using Wordfence to manage access to their site.

You can also read the documentation to learn about Wordfence's blocking tools, or visit wordfence.com to learn more about Wordfence.

Click here to learn more: Documentation

Generated by Wordfence at Wed, 23 Nov 2022 23:28:51 GMT.
Your computer's time: .

ग्लोबल क्रिप्टो मार्केट कैपिटलाइजेशन में 4.9% की गिरावट आई

रिटायरमेंट के बाद अगर आप सुकून की जिन्दगी बिताना चाहते हैं तो जरूरी है कि आप अपने भविष्य के बारे में सोचते हुए निवेश भी करते रहें। इसके लिए नेशनल पेंशन सिस्टम(NPS) से बेहतर कोई विकल्प नहीं है। NPS निवेश में उम्र सीमा 18-70 साल है. पहले उम्र सीमा 65 साल तक थी। 65-70 साल के भारतीय नागरिक, OCI निवेश कर सकते हैं। पेंशन फंड में एंट्री की उम्र सीमा 70 साल है।

सितंबर तिमाही अच्छी रही इक्विटी मार्केट के लिए

सितंबर तिमाही अच्छी रही इक्विटी मार्केट के लिए

भारतीय शेयर बाजार ने वित्त वर्ष 2023 की जुलाई-सितंबर तिमाही में उम्मीद से बेहतर प्रदर्शन किया है। इस अवधि में कॉर्पोरेट इंडिया के मजबूत प्रदर्शन से बाजार को अच्छा सपोर्ट मिला है। ये कहना है मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज के रिसर्च एंड इंस्टीट्यूशनल इक्विटीज हेड गौतम दुग्गड़ का। उन्होंने यह बात एक मीडिया हाउस से बातचीत के दौरान कही है।

फर्टिलाइजर शेयरों में आई जबरदस्त तेजी

फर्टिलाइजर शेयरों में आई जबरदस्त तेजी

आज इंट्राडे कारोबार में राष्ट्रीय केमिकल्स एंड फर्टिलाइजर्स, नेशनल फर्टिलाइजर्स, गुजरात स्टेट फर्टिलाइजर्स एंड केमिकल्स के शेयरों में पांच से 12 फीसद की तेजी देखने को मिल रही है। इसके पीछे कारण यह है कि मौजूदा समय में रबी फसलों की बुवाई का सीजन चल रहा है। इसी कारण से खाद कंपनियों के शेयरों की खरीदारी बढ़ रही है।

More than 1 Million users are using FlipItMoney to stay updated about the business and finance world! Join FlipItMoney now and take smart investment decisions!

ईडी ने क्रिप्टोकरेंसी धोखाधड़ी मामले में 14 करोड़ रुपये की संपत्ति कुर्क की

ईडी ने निवेशकों को प्रतिदिन 2-3 क्रिप्टोकरेंसी ब्रोकर्स प्रतिशत का उच्च रिटर्न देने के बहाने लोगों को धोखा देने के लिए निषाद के. और अन्य व्यक्तियों के खिलाफ पुलिस थानों में दर्ज विभिन्न प्राथमिकी के आधार पर मनी लॉन्ड्रिंग जांच शुरू की।

ईडी ने कहा, जांच के दौरान यह पता चला है कि निषाद के ने अपनी विभिन्न फर्मों जैसे लॉन्ग रिच ग्लोबल, लॉन्ग रिच टेक्नोलॉजीज और मॉरिस ट्रेडिंग सॉल्यूशंस के माध्यम से मॉरिस कॉइन क्रिप्टो करेंसी के लॉन्च के लिए इनिशियल कॉइन ऑफर की आड़ में निवेशकों से जमा राशि एकत्र की।

ईडी के अनुसार, मशहूर हस्तियों की उपस्थिति में प्रचार कार्यक्रम आयोजित करके, निवेशकों को आकर्षक वेबसाइटों से परिचित कराना और प्रत्येक निवेशक को वेब-आधारित ऐप्स के माध्यम से ई-वॉलेट का प्रावधान करके, निषाद ने विभिन्न पिन स्टॉकिस्टों के माध्यम से निवेशकों से जमा राशि एकत्र की है।

क्रिप्टोकरेंसी, पैन-आधार लिंक, प्लास्टिक बैन और नए श्रम कानून.. जानिए एक जुलाई से क्या-क्या हो रहे बदलाव

Changes from July 1

एक जुलाई से हो रहे हैं ये बदलाव

इस महीने की शुरुआत में सीबीडीटी ने किसी व्यवसाय या पेशे में प्राप्त लाभों के संबंध में नए टीडीएस प्रावधान के लागू होने को लेकर दिशानिर्देश जारी किए थे। सीबीडीटी ने कहा कि इस तरह के अनुलाभ या तो नकद या वस्तु या आंशिक रूप से इन दोनों रूपों में हो सकते हैं। बजट आयकर अधिनियम में नई धारा 194R लेकर आया था। इसमें हर उस व्यक्ति के लिए 10 फीसद टीडीएस कटौती की जरूरत है, जो किसी भी व्यक्ति के व्यापार या पेशे से एक साल में 20,000 रुपये से अधिक का कोई लाभ या अनुलाभ प्रदान करता है।

लागू हो सकते हैं नए श्रम कानून

हालांकि, केंद्र सरकार ने अभी तक नए श्रम कानूनों को लागू करने की कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की है, लेकिन ऐसी अटकले हैं कि एक जुलाई से नए लेबर कोड्स लागू हो सकते हैं। अगर यह लागू होता है, तो कर्मचारियों के काम के दिन घट जाएंगे। साथ ही टेक होम सैलरी में वृद्धि जैसे कई फायदे भी होंगे। नए लेबर कोड्स में कर्मचारियों के लिए हफ्ते में काम के दिनों को कम करने का प्रस्ताव है। इस तरह हफ्ते में वर्किंग डेज 5 से घटकर 4 रह सकते हैं। हालांकि, इससे प्रतिदिन काम के घंटे बढ़ जाएंगे। प्रावधान के अनुसार एक हफ्ते में 48 घंटे काम करने की जरूरत होगी। इसका मतलब है कि कर्मचारी 9 घंटे कि शिफ्ट की जगह 12 घंटे की शिफ्ट करेंगे। इसके अलावा पीएफ में बढ़ोतरी और अर्न्ड लीव पॉलिसी जैसे कई प्रावधान हैं।

सिंगल यूज प्लास्टिक फ्री होगी दिल्ली

'जो इनवेस्टर्स डरते थे वो लाभ लेना चाहते हैं'

थॉमस पीटरफी का इशारा उन इनवेस्टर्स पर है, जो कभी डिजिटल टोकन से डरते थे या सावधानी बरता करते थे, लेकिन क्रिप्टोकरेंसी ब्रोकर्स 2021 में ये दिखा कि लोग क्रिप्टो में मिल रहे बड़े लाभ को हासिल करने से चूकना नहीं चाहते हैं.

यहां तक ​​​​कि जब कीमतों में भारी बढ़ोतरी हुई तो बड़े और छोटे इनवेस्टर्स ने बिटक्वाइन और एथेरियम के साथ-साथ नॉन-फंजिबल टोकन, डॉग-थीम एसेट्स और शिटक्वॉइन में भी पैसे लगाए, जिसमें $ASS नाम का क्वाइन भी शामिल था.

रे डालियो क्रिप्टोकरेंसी ब्रोकर्स ने हाल ही में खुलासा किया कि क्रिप्टो की उपयोगिता पर सवाल करने के कुछ महीने बाद ही वह अपने पोर्टफोलियों में कुछ बिटक्वाइन्स और एथेरियम एड करना शुरू कर चुके थे.

The Bridgewater Associates के फाउंडर, इन्वेस्टमेंट्स को एक ऐसे अल्टरनेटिव मनी के रुप में देखते हैं जहां मंहगाई की वजह से कैश की खरीददारी शक्ति खत्म हो जाती है.

रेटिंग: 4.41
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 86
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *