विदेशी मुद्रा क्लब

Quotex पंजीकरण

Quotex पंजीकरण

पिछले तीन महीनों में 400 से अधिक सहकारी समितियों ने जीईएम पोर्टल पर पंजीकरण कराया: सरकार

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने एक जून को सरकारी ई-मार्केटप्लेस (जीईएम) पर खरीदार के रूप में सहकारी समितियों को खरीद की अनुमति देने के लिए जीईएम के अधिकार का विस्तार करने को अपनी मंजूरी दे दी थी। नौ अगस्त को सहकारी समितियों को औपचारिक रूप से पोर्टल पर जोड़ा गया।

सहकारिता राज्य मंत्री ने कहा, ‘‘अब तक 400 से अधिक सहकारी समितियों ने जीईएम पोर्टल पर पंजीकरण कराया है और व्यापार करना शुरू किया है।’’

वह यहां भारतीय राष्ट्रीय सहकारी संघ (एनसीयूआई) द्वारा आयोजित 69वें अखिल भारतीय सहकारिता सप्ताह को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि विशेष रूप से पूर्वोत्तर भारत के जैविक उत्पादों को सही बाजार नहीं मिल रहा है। चाहे वह जैविक हो या अन्य उत्पाद हों, सहकारी समितियां इन वस्तुओं को जीईएम पोर्टल पर बेच सकती हैं।

मंत्री ने कहा कि इसके अलावा, सरकार ने जुलाई 2021 में नए सहकारिता मंत्रालय के गठन के बाद से सहकारिता को मजबूत और विस्तारित करने के लिए कई उपाय किए हैं।

नए सहकारिता विश्वविद्यालय की स्थापना पर मंत्री ने कहा कि इसके लिए सैद्धांतिक मंजूरी दे दी गई है।

उन्होंने कार्यक्रम से इतर संवाददाताओं से कहा, ‘‘इसे दिल्ली Quotex पंजीकरण में स्थापित किये जाने की उम्मीद है।’’

मंत्री ने यह भी कहा कि एक नई सहकारिता नीति का मसौदा तैयार करने के लिए पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश प्रभु की अध्यक्षता में एक राष्ट्रीय समिति का गठन किया गया है और परामर्श प्रक्रिया चल रही है।

इस अवसर पर वर्मा ने दिल्ली के प्रथम मुख्यमंत्री दिवंगत चौधरी ब्रह्म प्रकाश की प्रतिमा का भी अनावरण किया।

एनसीयूआई के उपाध्यक्ष के शिवदासन नायर ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा दिए गए समर्थन का लाभ उठाने और सहकारी समितियों के काम करने के तरीके में बदलाव का यह सही समय है।

नायर ने कहा, ‘‘अतीत में, हरित क्रांति और श्वेत क्रांति का काम सहकारी समितियों को सौंपा गया था क्योंकि सरकार का हम पर भरोसा था। अब हम इसे खो चुके हैं और स्थिति को बदलने की जरूरत है।’’

भाषा राजेश राजेश रमण

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Quotex पंजीकरण

Quotes Instagram Post.png

  • बालक की उम्र 8 वर्ष से 20 वर्ष (जन्म 2002 से 2014 के मध्य)
  • फास्ट फुड त्याग
  • सप्त व्यसन त्याग का नियम रहेगा ।

संपर्क नंबर:-
बा.ब्र. तात्या भैय्याजी
📲 9422616167
बा. ब्र. अशोक भैय्याजी
📲 9595100108
बा. ब्र. विपुल भैय्याजी
📲 9975251008
महावीर बेंडसुरे, जिंतूर
📲 9921301008
धन्यकुमार साहूजी, जिंतूर
📲 9579844726

पंजीकरण फ़ॉर्म भर अपना पंजीकरण आज ही कराएँ

रजिस्ट्रेशन करायें अंतिम तिथि 18-11-2022

आचार्य जिनसेन प्रणीत,हजार वर्ष प्राचीन “आदि पुराण के अनुसार मिलेगें उपनीति क्रिया मौजी बंधन संस्कार

साइबर हमले को लेकर सेबी सख्त, कहा- 6 घंटे में सूचना दें केवाईसी पंजीकरण Quotex पंजीकरण एजेंसियां

Sebi On Cyber Attack: साइबर हमले को लेकर सेबी ने सख्ती दिखाई है. सेबी ने केवाईसी पंजीकरण एजेंसियों को 6 घंटे में सूचना देने के लिए कहा है. सेबी के पास यह सूचना एक ई-मेल आईडी के जरिये दी जाएगी. नियामक ने पिछले महीने शेयर ब्रोकरों और डिपॉजिटरी भागीदारों के लिए भी इसी तरह के निर्देश जारी किए थे.

Updated: July 7, 2022 8:44 AM IST

(File PIc)

Sebi On Cyber Attack: Quotex पंजीकरण भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (Sebi) ने केवाईसी पंजीकरण एजेंसियों (KRA) को सभी प्रकार के साइबर हमलों, खतरों और उल्लंघनों की सूचना इनका पता लगने के छह घंटे के अंदर देने को कहा है.

Also Read:

सेबी के मंगलवार को जारी परिपत्र के अनुसार, इस तरह के मामलों की जानकारी भारतीय कंप्यूटर आपातकालीन प्रतिक्रिया दल (CERT-In) को भी सीईआरटी-इन द्वारा समय-समय पर जारी दिशानिर्देशों के तहत देनी होगी.

इसके अलावा केआरए को इस तरह के मामलों के बारे में राष्ट्रीय महत्वपूर्ण सूचना अवसंरचना संरक्षण केंद्र (NCIIPC) को भी सूचित करना होगा.

नियामक ने कहा, ‘‘सभी साइबर हमलों, खतरों और उल्लंघनों के बारे में केआरए को छह घंटे में सूचित करना होगा.’’

शेयर ब्रोकरों तथा डिपॉजिटरी भागीदारों को तिमाही रिपोर्ट में साइबर हमलों, जोखिमों और उल्लंघनों की जानकारी देनी होगी और यह बताना होगा कि इससे निपटने के क्या उपाय किए गए. यह रिपोर्ट सेबी को प्रत्येक तिमाही के समाप्त होने के 15 दिन के अंदर देनी होगी.

सेबी के पास यह सूचना एक ई-मेल आईडी के जरिये दी जाएगी. नियामक ने पिछले महीने शेयर ब्रोकरों और डिपॉजिटरी भागीदारों के लिए भी इसी तरह के निर्देश जारी किए थे.

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें व्यापार की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

विवाह पंजीकरण (Marriage Registration) कैसे करें? जानिए आवश्यक दस्तावेज़, Quotex पंजीकरण शुल्क और प्रक्रिया

Marriage Registration Process

भारत में शादियाँ बहुत ही शानदार हैं। हम बच्चे के जन्म के दिन से ही रस्में आयोजित करते हैं, और हम यह सुनिश्चित करने में कोई कसर नहीं छोड़ते हैं कि उन्हें मनाया जाए। अपनी शादी के आस-पास के सभी उत्साह और खुशी के साथ, यह महत्वपूर्ण है कि आप अपनी शादी को जल्द से जल्द पंजीकृत (Marriage Registration) करवाएं।

विवाह पंजीकरण का उद्देश्य (Purpose of Registration of Marriage)

पंजीकरण का उद्देश्य शादी को आधिकारिक रूप से मान्य करना और भविष्य में कुछ ग़लत होने पर पति और पत्नी दोनों को सामाजिक और कानूनी सुरक्षा प्रदान करना है।

एक विवाह प्रमाण पत्र, जो आपकी शादी के पंजीकृत होने के बाद ही जारी किया जाएगा, भविष्य के सभी संयुक्त उपक्रमों में आवश्यक है, जैसे कि देश में एक साथ घर खरीदना या जीवनसाथी के लिए आवेदन करना यदि आप विदेश यात्रा करने का निर्णय लेते हैं।

भारत में, विवाह के पंजीकरण के क्षेत्र को नियंत्रित करने वाले निम्नलिखित दो कानून हैं:

Marriage Document

हिंदू विवाह अधिनियम, 1955

हिंदू विवाह अधिनियम 1955 विवाह पंजीकरण को नियंत्रित करता है जहां पति और पत्नी दोनों हिंदू, बौद्ध, जैन या सिख हैं, या उन्होंने इन धर्मों में से एक। ऐन धर्मांतरण किया हो।

यह याद रखना चाहिए कि हिंदू विवाह अधिनियम केवल उन विवाहों पर लागू होता है जो पहले हो चुके हैं।

विशेष विवाह अधिनियम, 1954

विशेष विवाह अधिनियम 1954 एक धर्मनिरपेक्ष कानून है और सभी धर्म के व्यक्तियों पर लागू होता है। Quotex पंजीकरण इस अधिनियम के तहत किसी भी धर्म का कोई भी व्यक्ति पंजीकरण का लाभ उठा सकता है।

Join LAW TREND WhatsAPP Group for Legal News Updates-Click to Join

विवाह पंजीकरण (Marriage Registration)

इन दिनों भारत में कई अन्य महत्वपूर्ण सेवाओं की तरह,विवाह पंजीकरण का ऑनलाइन पंजीकरण एक संभावना है। ऑनलाइन पंजीकरण एक अधिक बेहतर विकल्प है क्योंकि यह समय और कठिनाई को बचाता है, और यह लंबी लाइनों में खड़े होने की आवश्यकता को समाप्त करता है, जो इस दिन और सामाजिक अलगाव के युग में विशेष रूप से महत्वपूर्ण है। यह विवाह रजिस्ट्रार के साथ कई बैठकों की आवश्यकता को समाप्त करता है।

पंजीकरण के चरण इस प्रकार हैं (Procedure):

  1. आवेदक मूल राज्य की आधिकारिक वेबसाइट पर रेजिस्ट्रेशन करें।
  2. वेबसाइट पर विवाह पंजीकरण फॉर्म खोले ।
  3. दोनों विवाह पक्षों की व्यक्तिगत जानकारी के साथ फॉर्म भरें।
    एक बार पूरा हो जाने पर, फॉर्म जमा करें।
  4. एक बार कागजी कार्रवाई पूरी हो जाने के बाद, विवाह रजिस्ट्रार एक निश्चित तिथि और समय पर अपॉइंटमेंट शेड्यूल करने के लिए आवेदक से संपर्क करेगा।
  5. नीचे दिए गए लेख में सूचीबद्ध सभी कागजी कार्रवाई के साथ विवाह रजिस्ट्रार के कार्यालय में समय पर उपस्थित होना अनिवार्य है। इसके अलावा, विवाह के समय विवाह रजिस्ट्रार के कार्यालय में प्रत्येक पक्ष के दो गवाह मौजूद होने चाहिए।

अर्हता (Eligibility )

विवाह पंजीकरण के लिए Quotex पंजीकरण पुरुष आवेदक की आयु 21 वर्ष, जबकि महिला आवेदक की आयु 18 वर्ष होनी चाहिए। यह 1955 के हिंदू विवाह अधिनियम के साथ-साथ 1954 के विशेष विवाह अधिनियम के लिए भी सही है।

Marriage Registration Fee

आवश्यक दस्तावेज (Documents Required):

  1. पति और पत्नी द्वारा हस्ताक्षरित एक पूर्ण आवेदन फ़ॉर्म
  2. जन्मतिथि का प्रमाण जैसे मैट्रिक प्रमाण पत्र, जन्म प्रमाण पत्र, या पासपोर्ट।
  3. पते का प्रमाण जैसे चुनाव मतदाता पहचान पत्र, पैन कार्ड, आधार कार्ड, राशन कार्ड या बिजली बिल।
  4. यदि विवाह धार्मिक वातावरण में हुआ है, तो संस्था का एक प्रमाण पत्र विवाह के अनुष्ठापन को मान्यता देता है।
  5. पति-पत्नी की दो पासपोर्ट साइज फोटो और शादी के कार्ड के साथ एक शादी की फोटो।
  6. एक शपथपत्र कि पति और पत्नी जुड़े नहीं हैं और न ही वे हिंदू विवाह अधिनियम, 1955 या विशेष विवाह अधिनियम, 1954 द्वारा परिभाषित किसी भी प्रतिबंधित में आते है।

गवाह (Witness):Quotex पंजीकरण

एक व्यक्ति पंजीकरण में गवाह हो सकता है यदि वह शादी में शामिल हुआ है और उसके पास वैध जन्म तिथि के साथ-साथ निवास का प्रमाण भी है। बैठक के समय, प्रत्येक पक्ष के दो Quotex पंजीकरण गवाहों (कुल 4) को उप-कार्यालय रजिस्ट्रार में उपस्थित होना चाहिए, क्योंकि उन्हें कागजात पर हस्ताक्षर करने की आवश्यकता होती है।

शुल्क (Fee):

प्रत्येक राज्य द्वारा अलग-अलग शुल्क निर्धारित किया जाता है, इसका भुगतान पूरा फॉर्म भरने के बाद करना होता है। औसतन विवाह पंजीकरण के लिए शुल्क 100 रुपये है।

विवाह प्रमाण पत्र की वैधताः

विवाह पंजीकरण प्रमाण पत्र पूरे जीवन के लिए वैध है या जब तक सक्षम अदालत इसे अमान्य घोषित नहीं करती है या तलाक की डिक्री प्रदान नहीं करती है।

Get Instant Legal Updates on Mobile- Download Law Trend APP Now

जॉब फेयर कल, 15 हजार लोगों को मिलेगा जॉब

जॉब फेयर कल, 15 हजार लोगों को मिलेगा जॉब

मेरठ के आईआईएमटी यूनिवर्सिटी गंगानगर में 12 नवंबर को एक दिवसीय रोजगार मेला आयोजित होगा। इसमें 150 कंपनियों को आमंत्रित किया जा रहा है। इसमें मेरठ मंडल के छह जिलों के करीब 15 हजार बेरोजगार को नौकरी मिलेगी।

मेरठ (ब्यूरो)। मेरठ मंडल के छह जिलों के करीब 15 हजार बेरोजगार युवाओं को नौकरी दिलाने का लक्ष्य रखा है। सेवायोजन, आईटीआई, उद्योग विभाग, श्रम विभाग समेत विभिन्न विभागों के अफसर इसकी तैयारियों में जुट गए हैं। निदेशक प्रशिक्षण एवं सेवायोजन उत्तर प्रदेश के निर्देश पर रोजगार मेले की तैयारियों को लेकर आईटीआई साकेत में विभिन्न विभागों के अधिकारियों की बैठक हुई। संयुक्त निदेशक आईटीआई, सहायक निदेशक सेवायोजन शशिभूषण उपाध्याय, उपायुक्त उद्योग दीपेंद्र कुमार, उपश्रमायुक्त, जिला विद्यालय निरीक्षक, प्रधानाचार्य डीएन पॉलीटेक्निक, सहायक निदेशक कारखाना, प्रधानाचार्य राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान साकेत की मौजूदगी में ये फैसला हुआ।

पांच कंपनियों ने किया रजिस्ट्रेशन

रोजगार मेले में कंपनियों और इंडस्ट्री को सेवायोजना के पोर्टल पर पंजीकरण करना होगा। मेले में वहीं अभ्यर्थी भाग ले सकेंगे, जो सेवायोजन पोर्टल पर बेरोजगार के रूप में पंजीकृत हैं। मेले के लिए पांच कंपनियों ने पंजीकरण भी करा दिया है। एक कंपनी ने 1200 कर्मचारियों की जरूरत बताई है। करीब दो हजार रिक्तियां आ गईं।मेरठ मंडल के छह जिलों में करीब 80 हजार युवाओं ने सेवायोजन पोर्टल पर पंजीकरण कराया हुआ है।

जिलेवार रजिस्टर्ड बेरोजगार

युवाओं को मिलेगा जॉब

क्षेत्रीय सेवायोजन मेरठ मंडल, सहायक निदेशक, शशि भूषण उपाध्याय ने कहा कि एक दिवसीय रोजगार मेले में करीब 150 कंपनियों और 15 हजार बेरोजगार युवाओं को प्रतिभाग कराने के प्रयासों में जुटे हैं। अधिक से अधिक युवाओं को रोजगार मेले में नौकरी दिलाएंगे।

उद्यमियों से कर रहे संपर्क

जिला उद्योग एवं उद्यम प्रोत्साहन केंद्र, सहायक प्रबंधक, दिनेश कुमार ने कहा कि मंडल के हर जिले में उद्यमियों से संपर्क कर रहे हैं। करीब 150 इंडस्ट्री की सूची तैयार की है, जिन्हें रोजगार मेले में आमंत्रित किया जाएगा। एक दिवसीय रोजगार मेले में 15 हजार युवाओं को रोजगार दिलाने का प्रयास होगा।

रेटिंग: 4.89
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 303
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *