विदेशी मुद्रा क्लब

NFT क्या है?

NFT क्या है?
सलमान अपना NFT लेकर आ रहे हैं.

NFT मार्केटप्लेस क्या है?

प्रमुख क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंजों में से एक, WazirX ने हाल ही में NFT के लिए भारत का पहला मार्केटप्लेस लॉन्च किया है। NFT का अर्थ Non-Fungible Tokens है। यह लांच अब भारतीय रचनाकारों को नीलामी के लिए अपनी डिजिटल संपत्ति (जैसे कि चित्र या वीडियो, संगीत आदि) रखने और रॉयल्टी अर्जित करने की अनुमति देगा।

Non-Fungible Token क्या है?

यह एक डिजिटल लेज़र पर डेटा की एक इकाई है जिसे ब्लॉक चेन कहा जाता है। प्रत्येक NFT डेटा एक अद्वितीय डिजिटल आइटम का प्रतिनिधित्व करता है। यह ऑडियो, कला, वीडियो, वीडियो गेम या रचनात्मक कार्यों के अन्य रूप हो सकते हैं। इसमें केवल उन चीज़ों का उपयोग किया जा सकता है जिन्हें ऑनलाइन खरीदकर या डाउनलोड करके नीलामी के लिए यहां रखा जा सकता है। यदि कंप्यूटर का उपयोग करके एक कला कार्य बनाया गया है, तो इसे नीलामी के लिए यहां रखा जा सकता है।

इन ब्लॉकचनों में डिजिटल संपत्ति NFT बाजारों से खरीदी जा सकती है। ऐसा ही एक बाजार अब भारत में स्थापित किया गया है। इस प्रणाली में, मूल फ़ाइल की प्रतियों का उपयोग टोकन के मालिक तक सीमित नहीं है। चूंकि डिजिटल फाइलें असीम रूप से प्रतिलिपि प्रस्तुत करने योग्य होती हैं, इसलिए उनका प्रतिनिधित्व करने वाले एनएफटी खरीदारों को NFT के स्वामित्व के प्रमाण प्रदान करते हैं।

NFT क्रिप्टोकरेंसी से कैसे अलग है?

NFT एक क्रिप्टोग्राफिक टोकन है। हालांकि, क्रिप्टोकरेंसी के विपरीत, NFT पारस्परिक रूप से विनिमेय नहीं हैं।

NFT कैसे बनाया जाता है?

NFT तब बनाया जाता है जब NFT नीलामी बाज़ार में कला कार्य की एक फ़ाइल अपलोड की जाती है। तब से, फ़ाइल को क्रिप्टो मुद्रा के साथ खरीदा और बेचा जा सकता है।

क्या है ये NFT, जिसमें अमिताभ बच्चन से लेकर सोनू निगम तक कमाई के लिए किस्मत आजमा रहे हैं

nft

नई दिल्ली। मार्केट को समझने वाले लोगों में इन दिनों NFT को लेकर काफी क्रेज है। एक के बाद एक बॉलीवुड स्टार से लेकर क्रिकेटर तक अपने NFT लॉन्च कर रहे हैं। इसी कड़ी में शुक्रवार को प्रोद्योगिकी कंपनी जेटसिंथेसिस ने बॉलीवुड सिंगर सोनू निगम के साथ मिलकर भारतीय संगीत उद्योग की पहली एनएफटी श्रृंखला शुरू करने का फैसला किया है। ऐसे में आप भी सोच रहे होंगे की आखिर ये NFT है क्या? और लोगों को इससे क्या फायदा होता है।

क्या है NFT?

बतादें कि NFT एक डिजिटल टोकन है। जिसे ब्लॉकचेन तकनीक का इस्तेमाल करके बनाया NFT क्या है? जाता है। NFT का मतलब है ‘नॉन फंजिबल टोकन’ Non Fungible token) इसे ऐसे भी समझ सकते हैं कि किसी अर्थव्यवस्था में फिंजिबल एसेट का महत्वपूर्व योगदान होता है। यानी आप जिसे हाथों-हाथ लेन-देन कर सकते हैं। जैसे आपके पास 200 रूपये का नोट है, जिनका आप लेन-देन कर पाते हैं। ये नोट फंजिबल एसेट कहलाते हैं। इसके उलट नॉन-फिंजिबल एसेट होते हैं। जिसे NFT कहा जाता है। इससे विनिमय या लेन-देन नहीं होता। यही कारण है कि इसे विटकॉइन जैसी डिजिटल करेंसी से भी अगल माना जाता है।

NFT को आप नए दौर की नीलामी भी समझ सकते हैं

NFT की मदद से आप डिजिटल जगत में किसी पेंटिंग, किसी पोस्टर ,ऑडियो या वीडियो को सामान्य चीजों की तरह खरीद या बेच सकते हैं। इसके बदले आपको डिजिटल टोकन दिया जाता है। इस टोकन को ही NFT कहा जाता है। NFT को आप नए दौर की नीलामी भी समझ सकते हैं। कोई आर्टवर्क या फिर कोई ऐसी चीज जिसकी दूसरी कॉपी दुनिया में न हो तो आप उसे NFT करके पैसे कमा सकते हैं।

NFT आप आम तौर पर क्रिप्टोकरेंसी के जरिए ही करते हैं

NFT की एक और खासियत ये है कि अगर आप खुद की बनाई गई पेंटिंग NFT करते हैं तो आपको तब तक पैसे मिलते रहेंगे जब तक कि वो पेटिंग बेची जाती रहेगी। यानी जिंदगीभर आपको उस पेटिंग की कमाई का एक हिस्सा मिलता रहेगा। NFT आप आम तौर पर क्रिप्टोकरेंसी के जरिए ही करते हैं। यानी आप अपने आर्ट वर्क को NFT करना चाहते हैं तो उसके लिए जो ट्राजैक्शन होगा वो क्रिप्टोकरेंसी के जरिए ही होगा।

ऐसे करें अपना NFT

अब सवाल उठता है कि NFT को तैयार कैसे करें। अगर आप खुद का NFT तैयार करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको एक ऑनलाइन वॉलेट क्रिएट करना होगा, जिसमें NFTs होल्ड की जा सकें। क्रिप्टो असेट्स को जिस वॉलेज में स्टोर किया जाता है, उसे ‘प्राइवेट की’ की मदद से ऐक्सेस किया जा सकता है। यह प्राइवेट की किसी सुपर सिक्योर पासवर्ड की तरह काम करती है, जिसके बिना NFT ओनर टोकन्स ऐक्सेस नहीं कर सकते। इस वॉलेट को आपको मेटामास्क जैसी किसी सर्विस से लिंक करना होगा।

NFT क्या है, जिसमें 10 सेकेंड का वीडियो 48 करोड़ में बिका | Non Fungible Token

NFT Kya Hai In Hindi

NFT क्या है और NFT का इस्तेमाल कैसे किया जाता है, कैसे इससे बना वीडियो 48.44 करोड़ रुपये का बिका। आइए जानते है इसके बारे में सबक़ुछ [ NFT kya hai in Hindi, What is NFT in Hindi, Non Fungible Token kya hai, NFT Video Price, NFT kaise kam karta hai ]

दुनिया तेजी से डिजिटलीकरण की ओर बढ़ रही है। इस क्रम में पिछले कुछ NFT क्या है? दिनों से एनएफटी का नाम काफी लिया जा रहा है। यह एक Non-fungible Token है। इसे क्रिप्टोग्राफिक टोकन कहा जा सकता है। कोई भी तकनीकी कला जो अद्वितीय होने का दावा किया जाता है।

साथ ही यह स्थापित किया जाता है कि यदि कोई व्यक्ति इसका मालिक है, तो उसे एनएफटी यानी नॉन-फंक्शनल टोकन कहा जाता है। आजकल निवेशक ऐसी चीजों पर विशेष ध्यान दे रहे हैं जो केवल ऑनलाइन उपलब्ध हैं। इसके साथ ही यह अद्वितीय भी है।

पिछले कुछ दिनों से NFT को लेकर खबरें सामने आ रही हैं और लोगों के मन में इसे लेकर कई सवाल हैं। इसके बारे में लोगों का ध्यान तब गया जब कुछ दिनों पहले एक 10 सेकंड की Video Clip $ 66 लाख या लगभग 48.44 करोड़ रुपये में बिकी। इसे पाब्लो रॉड्रिग्ज फ्रैले ने मियामी के एक कला संग्राहक से खरीदा है।

वर्ष 2020 में उन्होंने 67 हजार डॉलर यानी लगभग 49.17 लाख रुपये 10 दूसरी कलाकृति पर खर्च किए। यह एक Computer Generated Video है। इसे एनएफटी यानी नॉन-फंजिबल टोकन कहा जाता है।

NFT Kya Hai In Hindi

Table of Contents

NFT क्या है | What is NFT in Hindi

NFT का अर्थ है गैर-कवक टोकन। यह एक क्रिप्टोग्राफिक टोकन है जो कुछ अद्वितीय का प्रतिनिधित्व करता है। एनएफटी रखने वाला व्यक्ति इंगित करता है कि उसके पास एक अद्वितीय या प्राचीन डिजिटल कला कार्य है जो दुनिया में किसी और के पास नहीं है। NFT Unique Token हैं या बल्कि वे Digital Currency हैं जो मूल्य उत्पन्न करते हैं। उदाहरण के लिए- अगर दो लोगों के पास Bitcoin हैं तो वे उन्हें एक्सचेंज कर सकते हैं। वे समान हैं, इसलिए उनकी कीमत समान होगी।

हालाँकि, NFT का आदान-प्रदान नहीं किया जा सकता है। क्योंकि वे अद्वितीय कला के टुकड़े हैं और इस का हर टोकन अपने आप में अनूठा है। Bitcoin एक Digital Currency है। जबकि एनएफटी एक Unique Digital Asset है। इसके प्रत्येक टोकन का मूल्य भी Unique है। और अगर इसे आसान भाषा में समझा जाए, तो अगर तकनीक की दुनिया में एक Digital Art Work स्थापित किया जाता है, तो इसे NFT यानी नॉन-फंजिबल टोकन कहा जाएगा।

जब आप ब्लॉकचेन में किसी को Bitcoin भेजते हैं, तो आप लेज़र में प्रवेश करते हैं। उसी NFT क्या है? समय, इसे NFT के लिए भी दर्ज किया जाता है लेकिन इसे उस फाइल का पता भी दिया जाता है जो NFT के स्वामित्व को स्थापित करती है। एनएफटी के सरल अर्थ को इस तरह भी समझा जा सकता है – ब्लॉकचैन पर डिजिटल ऑब्जेक्ट के स्वामित्व को पंजीकृत करना NFT कहलाता है।

NFT full form क्या है।

NFT Full Form in Hindi – गैर-कवक टोकन
NFT Full Form in English – Non Fungible Token

NFT कैसे बनाया जा सकता है।

यदि आपका डिजिटल आर्ट फॉर्म पर स्पष्ट हाथ है। इसे बनाने के लिए, आपको एक कलाकार बनना होगा। इसके साथ ही डिजिटल दुनिया के बारे में भी कुछ जानकारी लेनी होगी। इस दुनिया में प्रवेश करने के लिए, यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि आप अपने NFT को एक मंच पर रख सकते हैं जहां इसकी प्रशंसा आती है। इस तरह के कुछ प्लेटफॉर्म Rearable, Open Sea, Foundation और Sorare हैं। इनमें से, इसे उपयोग करने के लिए सबसे आसान कहा जाता है।

अब जब ये प्लेटफ़ॉर्म किसी विशिष्ट चीज़ के लिए हैं, तो इसके कुछ विशेष तरीके होंगे। जैसे, इस पर ट्रेडिंग रुपए में नहीं बल्कि Cryptocurrency में होती है। क्रिप्टोक्यूरेंसी का मतलब समान Bitcoin आदि है। Etherum एक ऐसी मुद्रा है। आपको पहले Etherum के लिए एक खाता बनाना होगा और इसे इन प्लेटफार्मों पर संलग्न करना होगा। इसके बाद, बस अपने Digital Art piece को अपलोड करें और एक बड़ी तारीफ की प्रतीक्षा करें।

एनएफटी का इस्तेमाल कैसे किया जाता है।

गैर-कवक टोकन का उपयोग डिजिटल परिसंपत्तियों या सामानों के लिए किया जा सकता है जो एक दूसरे से भिन्न होते हैं। यह उनके मूल्य और विशिष्टता को साबित करता है। ये Virtual Games से लेकर कलाकृति तक हर चीज के लिए मंजूरी प्रदान कर सकते हैं। NFT को मानक और पारंपरिक एक्सचेंजों में कारोबार नहीं किया जा सकता है। इन्हें Digital marketplace में खरीदा या बेचा जा सकता है।

एनएफटी के Example जानें।

  • Digital Flower – इसकी कीमत 20 हजार डॉलर या लगभग 14 लाख रुपये है।
  • Anonymous looping Video – कीमत 26 हजार 128 डॉलर या लगभग 19 लाख रुपये
  • A Sock (One Pair of Socks) – कीमत 60 हजार डॉलर या लगभग 40 करोड़ रुपए

इतना ही नहीं, NFT क्या है? 10 सेकंड खेलने वाले खिलाड़ी की एक क्लिप भी Non-Fungible Token के रूप में बाज़ार में उपलब्ध है। NBA ने बेचना भी शुरू कर दिया है। अब इंतजार करें जब आपको सचिन तेंदुलकर के किसी भी शॉट के Non-Fungible Token खरीदने का मौका मिले और आप इसे तुरंत खरीद सकें।

NFT (NON FUNGIBLE TOKENS) क्या है और यह कैसे काम करता है

दोस्तों आज कल समाचार में या सोशल मीडिया पर आपने NFT के बारे में काफी सुना होगा। NFT में कोई पेंटिंग करोड़ो में बिक रहा है तो कितने लोग NFT आर्ट में दिन रात लगे हुए हैं और अलग अलग प्लॅटफॉर्म पर अच्छा पैसा बना रहे हैं। तो दोस्तों आज हम आपको NFT की पूरी जानकारी देंगे NFT क्या है ? ये काम कैसे करता है ? कौन कौन से प्लेटफार्म हैं NFT सेल करने के लिए, और भी बहुत सारी NFT के बारे में हम आपको जानकारी देंगे। तो चलिए दोस्तों आज का टॉपिक शुरू करते हैं। बस शुरू करने के पहले ये कहना चाहूंगा की इस पोस्ट को पूरा पढ़े NFT की पूरी जानकारी के लिए। अगर आपने ये पोस्ट पूरा बिना स्किप किये पढ़ लिया तो आपको कहीं और जाने की जरूरत नहीं है। तो चलिए शुरू करते हैं।

NFT क्या है

NFT यानि Non Fungible Tokens , तो सबसे पहले आपको ये जानना जरूरी है की Non Fungible और Fungible क्या होता है ?तो यहाँ आपको बताते चलें की Fungible टोकंस हमारे करेंसी या मुद्रा के जैसे होते हैं। या आप ऐसा कह सकते हैं दो चीजें आपस में इन्टरचेंजबल हो। जैसे की अगर आपके पास 100 रुपये का नोट है तो आप उसे 10 , 20 या 50 रुपये के नोट में विभाजित कर सकते हैं या सरल भाषा में छुट्टा करा सकते हैं और कुछ पैसे खर्च कर सकते हैं और कुछ पैसे या कुछ भाग अपने पास रख कर उसे बाद में इस्तेमाल कर सकते हैं। जैसे की Bitcoin एक तरह से Fungible टोकन है। वहीं दूसरी ओर Non Fungible Tokens इन्टरचेंजबल नहीं होते हैं। नॉन फंजीबल असेट वो डिजिटल असेट होते हैं, जिन्हें किसी दूसरी चीज के साथ बदल नहीं सकते। जैसे जैक डोर्सी का पहला ट्वीट एनएफटी हो गया तो उसे किसी दूसरे ट्वीट के साथ बदल नहीं सकते हैं। वहीं दूसरी ओर किसी के आर्टवर्क को किसी दुसरे के आर्टवर्क से नहीं बदला जा सकता है। इस तरह आर्ट पीस, म्यूजिक, गेम, वीडियो आदि को डिजिटल दुनिया में एनएफटी के रूप में ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी के जरिए रखा जाता है। इसका एक यूनीक कोड होता है, जो डिजिटल दुनिया में किसी और का नहीं हो सकता। NFT का ओनरशिप हमेशा बरक़रार रहता है हुए उसे छेड़छाड़ , हटाया या गायब नहीं किया जा सकता है। जब एक एनएफटी जारी किया जाता है, तो स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट में टोकन की पहचान करने वाली जानकारी शामिल रहती है जैसे की टोकन की आईडी, और उस संपत्ति जैसे की आर्टवर्क , कोई म्यूजिक या कोई फोटोग्राफ से लिंक करने का एक तरीका जो इसका प्रतिनिधित्व करती है और बताती है की इस संपत्ति पर किसका अधिकार है।

क्या चीज़ NFT को ख़ास बनता है

NFT की खासियत ये है कि अगर आप खुद की बनाई गई पेटिंग NFT कर रहे हैं तो आपको तब तक पैसे मिलते रहेंगे जब तक वो पेटिंग बेची जाती रहेगी. जिंदगीभर आपको उस पेटिंग की कमाई का एक हिस्सा मिलता रहेगा. NFT स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट के जरिए ये भी सुनिश्चित करता है कि आपकी चीज का कॉपीराइट किसी और के पास न जा सके। आम तौर पर NFT क्रिप्टोकरेंसी के जरिए ही की जाती है. यानी अगर आप कुछ NFT करना चाहते हैं जैसे की आर्ट , पेंटिंग , फोटोग्राफ , म्यूजिक , तो उसके लिए जो ट्रांजैक्शन होगा वो क्रिप्टोकरेंसी के जरिए ही होगा यानी खुद एनएफटी की खरीद-फरोख्त नहीं होती है। और येह अभी सबसे ज्यादा एथेरियम के जरिये किया जाता है। 80 से 90 प्रतिशत NFT की खरीद फरोख्त Etherieum के जरिये ही किया जाता है। NFT असल में ब्लॉकचैन पर स्टोर किया हुआ एक ऐसा डाटा है जिसे NFT क्या है? चेंज करना लगभग नामुमकिन है। मतलब आपका आर्ट आपका ही रहेगा कोई अपने नाम से कर नहीं सकता।

NFT का उपयोग कैसे किया जाता है

NFT किसी भी आर्टिस्ट को अपना आर्ट या म्यूजिक या फोटोग्राफ या ऑडियो बेचने के लिए प्लेटफार्म मुहैया कराती है। यानि आपको अपने यूनिक कलेक्शन के लिए नीलामी या ऑक्शन करने के लिए किसी ऑक्शन हाउस या किसी ब्रोकरेज हाउस के पास जाने की जरूरत नहीं है आप इसी प्लेटफार्म पर अपने कलेक्शन को बेच सकते हैं और इसकी रॉयल्टी आपको मिल जाएगी। एक तरह से कहा जाये तो NFT एक डिजिटल एसेट के रूप में उपयोग किया जाता है जिससे की एक आर्ट को दुसरे आर्ट से अलग साबित किया जाये।

NFT की क्या क्या विशेषताएं हैं

1 नष्ट नहीं किया जा सकता :- NFT को ब्लॉकचैन पर स्टोर किया जाता है और मैनेज भी ब्लॉकचैन पर किया जाता है जिसके परिणामस्वरूप उनके लिए सुरक्षा का एक बड़ा स्तर होता है। इसका मतलब है कि उन्हें कभी भी किसी भी कीमत पर नष्ट या हटाया नहीं जा सकता है।

2 NFT काफी दुर्लभ है :-अभी वर्त्तमान समय में NFT NFT क्या है? की संख्या काफी सिमित है जिसके कारण ये नाहीं केवल दुर्लभ है बल्कि मूल्य भी काफी ज्यादा है। दूसरी भाषा में कहे तो जिस वास्तु की कमी हो और मांग ज्यादा हो तो वह उतनी ही महँगी मिलेगी।

3 NFT को विभाजित या तोड़ा नहीं जा सकता है :- आप NFT के एक पोरशन को किसी के पास नहीं भेज सकते हैं। क्योकि ये पूरी तरह से नॉन fungible होते हैं और उनका कोई परिभासित मूल्य नहीं होता है।

4 NFT सबसे यूनिक बनता है :- वास्तविक कलाकृति से बिकुल अलग NFT भीड़ से अलग बने रहने के लिए और कला की प्रमाणिकता के लिए ब्लॉकचैन का उपयोग करता है। और ब्लॉकचैन आपकी ओरिजिनल कलाकृति को कॉपी की गयी आपकी कलाकृति से बिल्कुल अलग करने की अनुमति देता है।

कौन कौन से प्लेटफार्म पर आप NFT को बेच सकते हैं।

आये दिन NFT को बेचने के लिए नए नए प्लेटफार्म बाजार में रहे हैं। जिसमे आप कुछ क्रिप्टो करेंसी दे कर अपने आर्ट को बेच सकते हैं या जिसे क्रिप्टो की भाषा में मिंट कर सकते हैं। लेकिन कुछ प्लेटफार्म फ्री भी हैं। nft NFT क्या है? में सबसे प्रचलित और फ्री प्लेटफार्म है

7 Nifty Gateway

इन सभी प्लेटफार्म में केवल ओपन सी ही फ्री है बाकि सभी प्लेटफार्म पर आपको कुछ फी या जिसे क्रिप्टो की भाषा में गैस फी पे करना पड़ता है। किसी भी प्लेटफार्म पर आपको अपना अकाउंट खोलना पड़ता है और अकाउंट आप डिजिटल वॉलेट की बिना नहीं खोल सकते हैं। इन डिजिटल वॉलेट में Metamask सबसे प्रचलित है। अगर आपको Metamask या अन्य NFT क्या है? डिजिटल वॉलेट के बारे में जानना है और उस वॉलेट से आप NFT अकाउंट कैसे खोल सकते हैं तो कृपया आप कमेंट बॉक्स में कमेंट करें हम डिजिटल वॉलेट के बारे में भी एक नया पोस्ट आपके लिए लेकर आएंगे।

NFT का उपयोग कहाँ कहाँ किया जा सकता है

1 गेमिंग इंडस्ट्री :- गेमिंग में अधिकांश यूजर वर्चुअल मनी का इस्तेमाल करते हैं। और काफी गेम्स में यूजर को गेम के स्टेज में आगे जाने के लिए बाज़ार से अलग अलग कमोडिटीज खरीदने पड़ते हैं जिसका की मार्केट काफी unorganized है। परन्तु NFT का उपयोग करने से कोई भी यूजर कमोडिटीज या कलेक्टिबल्स को खरीद सकता है पूरी सिक्योरिटी के साथ।

2 डिजिटल इंडस्ट्री :- nft एक कलाकार के कला को डुप्लीकेट होने या पायरेटेड होने से बचाता है क्योकि किसी कलाकार की कला ब्लॉकचैन पर स्मार्ट कॉन्ट्रैक्ट के जरिये सुरक्षित होती है और उसे बदलना नामुमकिन सा है।

3 डिजिटल संपत्ति :- डिजिटल रियल एस्टेट , मेटावर्स जहाँ पर आप अपने डिजिटल लैंड को खरीद सकते हैं और फ्यूचर में उसे बेच भी सकते हैं।

NFT से जुड़े जोखिम क्या क्या हैं

सबसे पहला जोखिम तो ये है की NFT के लिए कोई भी रेगुलेशन बॉडी नहीं है , तो फिर आपको इसमें आगे बढ़ने के लिए आपको काफी विश्वास की आवश्यकता होती है।

दूसरा सबसे बड़ा जोखिम है की जो भी आपका NFT या तो आपने बनाया है या ख़रीदा है किसी प्लेटफार्म पर और प्लेटफार्म किसी कारण वश बंद हो जाये तो आप किसी भी तरह से उसे दुबारा हासिल नहीं कर सकते हैं। लेकिन ऐसा होगा नहीं क्युकी सभी प्लेटफार्म काफी ऑथेंटिक है।

तीसरा जोखिम ऐसा है की आपने कोई nft किसी भी प्राइस पर खरीद लिया और उस nft की डिमांड मार्केट में गिरने लगे तो आपका लगा हुआ पैसा डूब सकता है NFT क्या है? और आप उसे आगे नहीं बेच सकते।

तो दोस्तों आज आपने NFT के बारे में जाना आपने ये जाना की NFT क्या है और ये कैसे काम करता है ? आपने इस पोस्ट के माध्यम से ये भी जाना की कौन कौन से प्लेटफार्म पर आप NFT खरीद या बेच सकते हैं। हमने आपको NFT की विशेषताएं भी बताई हमने आपको ये भी बताया की NFT के क्या क्या जोखिम हैं। तो सबसे पहले दिल से धन्यवाद् की आपने अपनी कीमती समय निकाल कर इस पोस्ट को पढ़ा। उम्मीद करता हूँ दोस्तों की ये पोस्ट आपको पसंद आया होगा यदि ये पोस्ट अच्छा लगा हो तो आप अपने करीबी अपने दोस्तों को ये पोस्ट फॉरवर्ड कर सकते हैं। आप कमेंट बॉक्स में कमेंट करके NFT से जुड़ी कोई भी सवाल हमसे पूछ सकते हैं। हम उसका जवाब जल्द से जल्द आपको देंगे। एक बार फिर से NFT क्या है? दिल से धन्यवाद्। कृप्या आप हमारे साथ इसी तरह जुड़े रह कर हमारा हौसला बढ़ाएं हम आपके लिए नयी नयी जानकारी लाते रहेंगे। धन्यवाद्

अमिताभ के बाद अब सलमान खान लेकर आ रहे हैं अपना NFT,Bollycoin.Com पर लॉन्च करेंगे अपने प्रोडक्ट

Bollycoin का दावा है कि यह दुनिया का सबसे बड़ा बॉलीवुड NFT मार्केटप्लेस बन जाएगा. क्रिएटिव आइकनिक और एक्सक्लूसिव NFT के लिए यह फिल्म इंडस्ट्री के बड़े प्रोड्यूसर्स और सेलिब्रिटीज के साथ टाई-अप करेगी.

अमिताभ के बाद अब सलमान खान लेकर आ रहे हैं अपना NFT,Bollycoin.Com पर लॉन्च करेंगे अपने प्रोडक्ट

सलमान अपना NFT लेकर आ रहे हैं.

बॉलीवुड सुपरस्टार सलमान खान ने अपना Non-fungible token यानी NFT लॉन्च करने का ऐलान किया है. अमिताभ बच्चन के बाद सलमान खान दूसरे बॉलीवुड एक्टर हैं, जो अपना NFT लॉन्च करने जा रहे हैं. सलमान खान ने ट्वीट कर कहा, “आ रहा हूं मैं, NFT लेके. सलमान स्टेटिक [email protected] Bollycoin पर आ रहा है. Stay tuned bhai log.”

Bollycoin.com पर NFT क्या है? आएगा सलमान का NFT

Bollycoin.com के मुताबिक डिजिटल बॉलीवुड के डिजिटल कलेक्टबल्स Ethereum blockchain पर नीलाम होंगे. दुनिया भर के बॉलीवुड फैन इस पर अपने फेवरिट फिल्म और स्टार के NFT ले सकेंगे, उम्मीद है कि बॉलीवुड के और भी कलाकार और क्रिएटर ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर ज्यादा से ज्यादा फैन्स से अपना संपर्क बनाएंगे. फैन टोकन, डिजिटल कलेक्टेबल्स और अवतार के जरिये ज्यादा से ज्यादा फैन्स से जुड़ने की कोशिश होगी. Bollycoin का दावा है कि यह दुनिया का सबसे बड़ा बॉलीवुड NFT मार्केटप्लेस बन जाएगा. क्रिएटिव आइकनिक और एक्सक्लूसिव NFT के लिए यह फिल्म इंडस्ट्री के बड़े प्रोड्यूसर्स और सेलिब्रिटीज के साथ टाई-अप करेगी.

Aa raha hoon main, NFTs leke. Salman Khan Static NFTs coming on @bollycoin. Stay tuned, bhai log! https://t.co/auNNbccZJX . #BollyCoin #NFTs #ComingSoon pic.twitter.com/u8ZWUSwuq0

Top Stocks for Portfolio: निवेश के लिए 13 लार्जकैप और 9 मिडकैप शेयरों की लिस्‍ट, पोर्टफोलियो को बना देंगे दमदार

Jhunjhunwala Portfolio: राकेश झुनझुनवाला पोर्टफोलियो की वैल्‍यू 35000 करोड़, वाइफ रेखा ने खरीदे 2 नए शेयर, 4 में बढ़ाई हिस्‍सेदारी

Nykaa Bonus Share: कंपनी 1 के बदले 5 शेयर देगी एक्स्ट्रा, क्‍या आपके पास हैं स्‍टॉक, ये है रिकॉर्ड और एक्‍स डेट

— Salman Khan (@BeingSalmanKhan) October 13, 2021

NFT क्या है?

NFT या Non-fungible token एक यूनिक आइडेंटिफायर ( Idendifier) है, जो किसी डिजिटल वस्तु के मालिकाना को क्रिप्टोग्राफिकली असाइन और साबित कर सकता है. डिजिटल आर्टवर्क के NFT लाखों डॉलर में बिके हैं . मोटे तौर पर NFT एक डिजिटल एसेट है जो किसी यूनिक फिजिकल या डिजिटल आइटम के मालिकाना को लिंक करता है. यह एसेट कोई पेंटिंग, रियल एस्टेट, म्यूजिक या वीडियो हो सकता है. एक तरह से कहें तो ये आज के जमाने की संग्रहणीय चीजें हैं. ये ऑनलाइन बेची या खरीदी जा सकती हैं . NFT बड़े ही सुरक्षित तरीके से ब्लॉकचेन पर रिकार्ड हो जाता है. यही टेक्नोलॉजी क्रिप्टोकरेंसी में भी इस्तेमाल होती है. इसका मतलब है कि अगर कोई पेंटिंग NFT है तो यह अपने आप में अकेली होगी. यह टेक्नोलॉजी इसकी नकल को मुश्किल बना देगी. असली पेंटिंग में छेड़छाड़ नहीं हो पाएगी.

पिछले दिनों ट्विटर के सीईओ जैक डोर्सी ने अपने पहले ट्वीट का NFT 29 लाख डॉलर में नीलाम किया था. इसी तरह जब NFT क्या है? बॉलीवुड स्टार अपनी कोई चीज NFT के तौर पर बेचेंगे तो वह एक ही होगी. इसकी नकल नहीं होगी. इसी वजह से इसकी कीमत ज्यादा भी होगी. बाद में इस NFT की खरीद-बिक्री भी हो सकेगी.

रेटिंग: 4.62
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 627
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *