बेस्ट ब्रोकर

आईफोरेक्स क्या है

आईफोरेक्स क्या है

10 मिनट में समझे फॉरेक्स ट्रेडिंग क्या है?

आज इस पोस्ट में हम बाजार का एक प्रमुख अंग कहे जाने वाले फोरेक्स मार्किट के बारे में जानेंगे | हम में से अक्सर लोग शेयर बाजार से सुरुवात करते है और जब ओ फोरेक्स मार्किट में कदम रखते है तब उनका पहला ही सवाल होता है के forex trading kya hai ? तो अगले 10 मिनट में समझते है फॉरेक्स ट्रेडिंग क्या है?

विदेशी मुद्रा व्यापार क्या है और यह कैसे काम करता है: विदेशी मुद्रा, (Forex or FX ) विदेशी मुद्रा व्यापार एक प्रकार का व्यापार है जिसमें एक मुद्रा का दूसरे के लिए कारोबार किया जाता है। इसमें मुद्राओं की जोड़ी शामिल है जहां विदेशी मुद्रा व्यापारी विश्लेषण पर ट्रेड करता है यदि एक मुद्रा का मूल्य दूसरे की तुलना में बढ़ेगा या घटेगा|

तो Forex trading kya h? इसे और भी आसानी से ऐसे बोल सकते है के एक-दूसरे के साथ राष्ट्रीय मुद्राओं के आदान-प्रदान के लिए एक आंतरराष्ट्रीय बाजार है। व्यापार के सबसे लोकप्रिय रूपों में से एक है जो मुद्रा की कीमतों के बारे में वित्तीय अटकलों पर आधारित है।

विदेशी मुद्रा ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से की जा सकती है, लेकिन आजकल इसका अधिकांश भाग इंटरनेट पर अन्य प्रकार के व्यापार के समान ही किया जाता है।

जैसा कि हम जानते हैं कि 'विदेशी मुद्रा' विदेशी मुद्रा का संक्षिप्त रूप है; विदेशी मुद्रा व्यापार में विदेशी मुद्राएं शामिल हैं। आईफोरेक्स क्या है 200 से अधिक विभिन्न देशों के लिए, उनकी मुद्राएं समान संख्या में मौजूद हैं।

इसका मतलब यह है कि व्यापारियों के पास इस वित्तीय विनिमय को करने के लिए अमेरिकी डॉलर, यूरो, पाउंड स्टर्लिंग, या किसी अन्य विदेशी मुद्रा जैसी विभिन्न मुद्राओं का उपयोग करने का अवसर है।

"विदेशी मुद्रा व्यापार क्या है?" इसका सबसे आसान उत्तर यह होगा के कोई भी व्यापारी किसी देश की मुद्रा को कम दर पर खरीदता है और मुनाफे के साथ उसे उपरी कीमतों पर बेचता है|

यह तुलनात्मक रूप से होता है; जिसमे एक मुद्रा की तुलना दूसरे देश की मुद्रा के साथ की जाती है |

मुद्रा व्यापारी को हर समय सरकार की नीतियों की एवं विश्व में चल रही गतिविधियों की जानकारी अधिक मुनाफ़ा कमाने में मदद करती है | इन सभी चीजों से मुद्रा की कीमतों में बदलाव होते है; जिसमे एक छोटे से बदलाव से भी बहुत बड़ा मुनाफ़ा कमाया जा सकता है |

इसमें व्यापारी मुद्रा को कम कीमत में खरीदते है और जब उन्हें निश्चित मुनाफा मिल जाता है तब वे उन्हें बेच देते है |

विदेशी मुद्रा व्यापर इतना सरल भी नहीं है | इसमें किसी को भी वित्तीय जोखिम को ध्यान में रखकर ही ट्रेडिंग करनी चाहिये | किसी भी ट्रेडर को ट्रेडिंग करने से पहले बुनियादी बातो को सीखना चाहिए |

विदेशी मुद्रा व्यापार तकनीकी विश्लेषण का परिचय

10 मिनट में विदेशी मुद्रा व्यापार शुरू करें

ट्रेडिंग के बारे में जो कुछ भी आपने सीखा है उसे 1:777 लीवरेज, ऋणात्मक शेष सुरक्षा और बकाया समर्थन के साथ एक वास्तविक ट्रेडिंग खाते में लागू करें।

ट्रेडिंग फॉरेक्स क्या है?

किसी भी प्रकार की ट्रेडिंग में आप कोई भी एसेट खरीदते और बेचते हैं। विदेशी मुद्रा व्यापार में, यह कार्य मुद्रा आईफोरेक्स क्या है के आदान-प्रदान के रूप में किया जाता है।

- फॉरेक्स ट्रेडिंग को करेंसी ट्रेडिंग भी कहा जाता है।

मुद्रा व्यापार सबसे लोकप्रिय व्यवसायों में से एक है। इसे एफएक्स या फॉरेक्स भी कहा जाता है। मुद्रा व्यापार किसी भी देश के अंदर चल रहे शेयर बाजार से भी लोकप्रिय है। संयुक्त राज्य अमेरिका के अनुसार, दुनिया में 180 आधिकारिक मुद्राएं हैं जिन्हें विदेशी मुद्रा व्यापार में खरीदा और बेचा आईफोरेक्स क्या है जा सकता है। और यही मुद्रा व्यापार संक्षेप में है।

तो आइए जानते हैं कि फॉरेक्स कैसे काम करता है। जैसा कि हम जानते हैं कि विदेशी मुद्रा सबसे लोकप्रिय वास्तविक व्यापार है। करेंसी का लेन-देन अब सिर्फ एक देश से दूसरे देश में जानने वाले लोगों तक ही सीमित नहीं रहा, अब विदेशी मुद्रा का लेन-देन बिना कहे भी किया जा सकता है।

उदाहरण के लिए, यदि आप कोई वस्तु ऑनलाइन खरीद रहे हैं जिसकी कीमत पाउंड में दी गई है, तो आपको अपनी मुद्रा को पाउंड में बदलना होगा।

आइए अब समझते हैं कि ट्रेडर फॉरेक्स में कैसे ट्रेड करते हैं।

व्यापारी एक विशेष मुद्रा को चुनकर एक सामान्य दौरे पर अपना पैसा खरीदते हैं, जब उस मुद्रा की कीमत बाजार में काम करेगी। क्योंकि यह उस समय किफायती हो जाता है। उसके बाद, जब कीमत फिर से बढ़ जाती है, तो व्यापारी इसे सही समय पर बेचते हैं।

क्यों ऑनलाइन विदेशी मुद्रा व्यापार क्षेत्र पर हावी है?

जैसा की हम विदेशी मुद्रा व्यापार का अर्थ जान चुके है ; इसमें हम ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों तरीको से ट्रेड कर सकते है |

अगर आप को ऑफलाइन विदेशी मुद्रा व्यापार में ट्रेड करना है तो बैंक में जाना पड़ेगा | इसके विपरीत आप इसे बहोत ही आसानी से ऑनलाइन तरीके से भी कर सकते है|

ऑनलाइन से ट्रेडिंग बहोत ही सरल हो जाती है जिसके लिए आपको कही भी जाना नहीं पड़ेगा | केवल आप अपने मोबाइल फोन या फिर लैपटॉप के जरिये से फोरेक्स ट्रेडिंग कर सकते है और इसी वजह से फोरेक्स ट्रेडिंग ऑनलाइन तरीके से आईफोरेक्स क्या है बहोत ज्यादा की जा रही है |

How Forex works?

Currencies in Forex explained for dummies

फोरेक्स मार्किट पूरी तरीके से मुद्रा के व्यापार का ही नाम है ; यह अलग अलग देशो के मुद्राओसे जुड़ा है| इसमें आपको तकरीबन २०० अलग अलग नामांकित मुद्राये मिल जायेगी |

🍁 करेंसी पेअर : 'मुद्रा जोड़े' यह एक विशिष्ट नाम है जो दो मुद्राओ और उनकी उस वक्त की कीमत के बिच के सम्बन्ध को दिखाता है| जैसे के करेन्सी पेअर USD / EUR इसमें युरो और डॉलर शामिल है|

यह जोड़ी दोनों करेंसी का विनिमय दर दिखाती है ; इसका यह मतलब होता है के 1USD में कितने यूरो ख़रीदे जा सकते है |

🍁 जैसे के विनिमय दर 2.0 का है तो 1usd में २ यूरो ख़रीदे जाएंगे | विदेशी मुद्रा व्यपार में विनिमय दरे ही व्यापार का मुलभुत आधार है | ये दरे फिक्स्ड , फ्लोटिंग, बढ़ने और घटने वाली आदि किसम की होती है |

इस बात से आप यह अंदाजा तो लगा सकते है के एक ट्रेडर मुद्रा व्यापार में क्या करना चाहिए? उत्तर विल्कुल साफ़ है |

आमतौर पर एक ट्रेडर किसी भी करेंसी पेअर की दरे घटने का इन्तजार करता है और फिर उसे कम दरों पर खरीदता है | जब उस करेंसी पेअर की कीमत बढ़ जाती है तब उसे बेचता है| और दोनों दरों के फर्क से उस ट्रेडर को मुनाफा होता है |

काम की बात: लोगों को बरगला रहे अनधिकृत फॉरेक्स ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म, कमाई गंवा रहे निवेशक

रिजर्व बैंक ने विदेशी करेंसी में पैसा लगाने वाले निवेशकों को सतर्कता बरतने की सलाह दी है। खास तौर पर ऐसे अनधिकृत फॉरेन एक्सचेंज ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म्स के प्रति चेताया है, जो हाल के महीनों में बड़े पैमाने पर उभरे हैं और लोगों से ऊंचे रिटर्न का वादा कर रहे हैं।

आरबीआई ने एक बयान जारी करके कहा है कि सोशल मीडिया प्लेटफॉम्स, सर्च इंजन्स, ओटीटी प्लेटफॉर्म्स और गेमिंग एप्स पर अनधिकृत ईटीपी के ढेर सारे भ्रामक विज्ञापन आ रहे हैं। अनधिकृत ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म्स लोगों को निजी तौर पर संपर्क कर उन्हें फॉरेक्स में ट्रेड कर मोटा मुनाफा कमाने का लालच दे रहे हैं। इसमें फ्रॉड की शिकायतें आ रही हैं, और इनमें निवेश करने वाले अपनी गाढ़ी कमाई गंवा रहे हैं।

अथॉराइज्ड पर्सन्स के साथ ही हो लेनदेन
आरबीआई ने कहा है कि देश में इलेक्ट्रॉनिकली फॉरेक्स ट्रांजैक्शंस किए जा सकते हैं, लेकिन सिर्फ ऐसे इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म्स के जरिए जो आरबीआई की तरफ से निश्चित उद्देश्यों के लिए अधिकृत हैं। लोगों को सिर्फ अधिकृत (अथॉराइज्ड पर्सन्स) लोगों के साथ विदेशी मुद्रा में लेनदेन करना चाहिए। ये लेनदेन भी केवल विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम, 1999 (फेमा) के तहत तय उद्देश्यों के लिए किया जाना चाहिए। केंद्रीय बैंक के बयान में कहा गया है, ‘आरबीआई लोगों को चेताता है कि वे गैर-अधिकृत ईटीपी (इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म) पर फॉरेक्स ट्रांजेक्शंस न करें।’

भरना पड़ सकता है जुर्माना
आरबीआई के बयान में कहा गया है कि (फेमा) के तहत तय उद्देश्यों से इतर अन्य जरूरतों के लिए विदेशी मुद्रा में लेनदेन या अनधिकृत ईटीपी के माध्यम से ट्रांजैक्शन करने पर फॉरेन एक्सचेंज एक्ट के प्रावधानों के तहत जुर्माना लगाया जा सकता है।

गाइडलाइन: आरबीआई से अधिकृत ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म से ही कर सकते हैं फॉरेक्स ट्रेडिंग

अथॉराइज्ड पर्सन्स कौन हैं?
ये वो लोग या संस्थाएं हैं, जिन्हें आरबीआई ने फॉरेक्स में डील की अनुमति दी हुई है। ये आईफोरेक्स क्या है अथॉराइज्ड डीलर, मनी चेंजर या विदेशी बैंक की यूनिट हो सकती हैं। इनकी लिस्ट आरबीआई की वेबसाइट पर है।

क्या कोई भारतीय ट्रेडिंग पोर्टल पर विदेशी मुद्रा में लेनदेन कर सकता है?
हां, लेकिन सिर्फ फेमा के तहत तय उद्देश्यों के लिए अधिकृत ईटीपी के से। इसके अलावा एनएसई, बीएसई और मेट्रोपोलिटन स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया के जरिये भी फॉरेक्स ट्रांजैक्शंस किए जा सकते हैं।

ईटीपी क्या हैं? क्या इन्हें आरबीआई से अनुमति लेनी पड़ती है?
इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म स्टॉक एक्सचेंजों से इतर ऐसे इलेक्ट्रॉनिक् सिस्टम हैं, जहां शेयर, मनी मार्केट इंस्ट्रूमेंट्स या विदेशी मुद्रा की ट्रेडिंग की जा सकती है। आरबीआई से अनुमति लिए बगैर ये भारत में ऑपरेट नहीं कर सकते।

फॉरेक्स

यह खंड वास्तविक रूप में एक व्यापक फॉरेक्स ट्रेडिंग कोर्स है। यह बताता है कि फॉरेक्स बाजार क्या है, वहां कौन से ट्रेडिंग इंस्ट्रूमेंट्स उपलब्ध हैं, और उनमें सर्वोत्तम आईफोरेक्स क्या है तरीके से ट्रेड कैसे करें। यह नौसिखिए लोगों के लिए सिर्फ फॉरेक्स से अधिक है। यह नौसिखियों से लेकर विशेषज्ञों तक सभी प्रकार के ट्रेडरों के लिए फॉरेक्स उपयुक्त है।

मुद्रा जोड़ी सहसंबंधों के बारे में सम्पूर्ण जानकारी

एक फुल-टाइम ट्रेडर के रूप में बड़ी कमाई करने के लिए Forex ट्रेडिंग के 5 सुझाव

बाजार की चरम सीमाओं की सटीक पहचान के लिए ऑसिलेटर्स का उपयोग कैसे करें

Forex बाजार में लीवरेज कैसे काम करता है

जोड़ी ट्रेडिंग क्या है?

सबसे उपयुक्त Forex ट्रेडिंग समय

इनसाइड बार रणनीति

मुद्रा ट्रेडिंग के सुझाव

Forex बाजार में सक्रिय होने का सबसे बेहतरीन समय क्या है?

स्प्रेड क्या है, और क्या इसके बिना बेहतर हैं?

Forex के बारे में अधिक जानकारी

नि:शुल्क Forex शिक्षा वह है जो नौसिखिए ट्रेडर आमतौर पर खोज आईफोरेक्स क्या है रहे होते हैं। कोई आश्चर्य की बात नहीं, Forex वैश्विक वित्तीय बाजार का प्रमुख तत्व है, और ठीक इसी से लोग अपनी ट्रेडिंग यात्रा की शुरुआत करते हैं।

Olymp Trade आधिकारिक ब्लॉग का यह खंड Forex शिक्षा सामग्री का एक आदर्श और नि:शुल्क स्रोत है। आपको आईफोरेक्स क्या है ब्लॉग में ताजा Forex समाचार भी प्राप्त होंगे, जो आपको बाजार की मौजूदा स्थिति को समझने में मदद करेंगे।

ब्लॉग के लेख मुद्रा जोड़ी और उनसे संबंधित बाजार की गतिशीलता की व्याख्या करते हैं, प्रभावी ट्रेडिंग निर्णय लेने के लिए आवश्यक विशेषज्ञ विश्लेषण और शैक्षिक पाठ्यक्रम प्रदान करते आईफोरेक्स क्या है हैं, और आपको यह समझने में मदद करते हैं कि आप एक सफल Olymp Trade Forex ट्रेडर कैसे बन सकते हैं।

गहराई से खंड पर नज़र डालें और खोजें:

  • कैसे Forex ट्रेडिंग शुरू करें (नौसिखियों के लिए हमारे चरण-दर-चरण दिशानिर्देश पढ़ें)
  • सर्वोत्तम ट्रेडिंग रणनीतियों और साधनों का उपयोग
  • Olymp Trade पर Forex ट्रेडिंग से अधिकतम लाभ कैसे प्राप्त करें
  • Forex ट्रेडिंग के महत्वपूर्ण कारक
  • और Forex पेशेवर बनने के लिए अन्य मूल्यवान सुझाव

उपयोगी Olymp Trade आधिकारिक ब्लॉग लेखों के साथ अभी Forex ट्रेडिंग शुरू करें।

फोरेक्स ट्रेडिंग ऑनलाइन

एक बाजार जो दैनिक मात्रा में लगभग $ 5.2 ट्रिलियन को आकर्षित करता है, जिसे दुनिया के सबसे बड़े बाजार के रूप में मान्यता प्राप्त है, जो आईफोरेक्स क्या है विश्व स्तर पर 24 घंटे उपलब्ध है - बिल्कुल यही मुद्रा बाज़ार होता है। छोटी मार्जिन आवश्यकताओं और कम प्रवेश बाधाओं का लाभ इसे खुदरा निवेशक के पोर्टफोलियो का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बनाता है।

  • फ्यूचर्स, ऑप्शन में ट्रेड
  • छोटी मार्जिन आवश्यकताएँ
  • नियंत्रित विनियमन
  • पोर्टफोलियो का विविधीकरण
  • जोखिम से बचाव
  • निवेश, व्यापार, बचाव, अनुमान लगाना

मुद्रा व्यापार के लिए हमें क्यों चुनें

  • लाभ -4 गुना एक्सपोजर
  • सुरक्षित व्यापार अनुभव
  • वैयक्तिकृत सूचना
  • कुशल जोखिम प्रबंधन
  • समर्पित सलाहकार दल

अभी डीमैट खाता खोलें!

Loading.

मुद्रा और विदेशी मुद्रा बाजार की अनुशंसाएं

No data at this time

Loading.

Latest Report

Currency Daily

Currency Daily

Currency Daily

Currency Daily

Loading.

एडुएम.ओ वीडियो

गहन, विस्तृत अध्याय। आसानी से सीखने के लिए वीडियो और ब्लॉग। मजेदार, प्रभावी और सहायक

ब्लॉग्स

8 Key Elements Of Currency Trading

Understanding the Fundamentals of Currency Trading for Beginners

Earn Profit Without Taking Any Risks in Currency Trading

मुद्रा संबंधी एफ.ए.क्यू

व्यापार डेरिवेटिव के लिए न्यूनतम निवेश कितना है?

यह कदम तब आया जब बाज़ार नियामक सेबी ने छोटे निवेशकों को उच्च जोखिम वाले उत्पादों से बचाने के प्रयास में वर्तमान में किसी भी इक्विटी डेरिवेटिव उत्पाद के लिए न्यूनतम निवेश आकार में 2 लाख रुपए से 5 लाख रुपए तक की बढ़ोतरी की।

करेंसी ट्रेडिंग इन इंडिया क्या है और मैं मुद्रा व्यापार कैसे शुरु करूँ?

विदेशी मुद्रा व्यापार, एक मुद्रा का दूसरे में रूपांतरण है। यह दुनिया के सबसे सक्रिय रूप से कारोबार किए जाने वाले बाज़ारों में से एक है, जिसमें औसत दैनिक व्यापार की मात्रा 5 ट्रिलियन डॉलर है।

मैं ऑनलाइन फोरेक्स ट्रेडिंग कैसे कर सकता हूँ?

सभी मुद्रा व्यापार जोड़े में किया जाता है। शेयर बाज़ार के विपरीत, जहाँ आप एकल स्टॉक खरीद या बेच सकते हैं, आपको एक मुद्रा खरीदनी होगी और दूसरी मुद्रा को विदेशी मुद्रा बाज़ार में बेचना होगा। इसके बाद, लगभग सभी मुद्राओं का मूल्य चौथे दशमलव बिंदु तक होगा। बिंदु में प्रतिशत व्यापार की सबसे छोटी वृद्धि है।

भारत में मुद्रा का व्यापार कैसे कर सकता हूँ?

सभी मुद्रा व्यापार जोड़े में किया जाता है। शेयर बाज़ार के विपरीत, जहाँ आप एकल स्टॉक खरीद या बेच सकते हैं, आपको एक मुद्रा खरीदनी होगी और दूसरी मुद्रा को विदेशी मुद्रा बाज़ार में बेचना होगा। इसके बाद, लगभग सभी मुद्राओं का मूल्य चौथे दशमलव बिंदु तक होगा। बिंदु में प्रतिशत व्यापार की सबसे छोटी वृद्धि है।

विदेशी मुद्रा व्यापार से लाभ प्राप्त कैसे करें?

विदेशी मुद्रा व्यापार आपको मुनाफ़ा दे सकती है यदि आप असामान्य रूप से कुशल मुद्रा व्यापारी के साथ धनराशि को छुपा कर रखते हैं। हालांकि इसका अर्थ यह लगाया जा सकता है कि मुद्राओं में व्यापार करते समय तीन में से एक व्यापारी का पैसा नहीं डूबता, लेकिन यह समृद्ध व्यापार विदेशी मुद्रा प्राप्त करने के समान नहीं है।

क्या विदेशी मुद्रा व्यापार में कोई जोखिम कारक शामिल है?

विदेशी मुद्रा व्यापार में मुद्रा जोड़े का व्यापार शामिल है। कोई भी निवेश जो संभावित लाभ प्रदान करने का प्रस्ताव रखता है उसमें भी मार्जिन पर व्यापार करते समय अपने लेनदेन के मूल्य से बहुत अधिक खोने के बिंदु तक डाउनसाइड जोखिम होता है।

भारतीय विदेशी मुद्रा क्या है?

भारत के आर्थिक सर्वेक्षण 2014-15 में कहा गया कि भारत 750 बिलियन यू.एस डॉलर से 1 ट्रिलियन डॉलर तक के विदेशी मुद्रा भंडार को लक्षित कर सकता है। दिसंबर 2019 तक, भारत के विदेशी मुद्रा भंडार मुख्य रूप से यू.एस सरकारी बॉन्ड और संस्थागत बॉन्ड के रूप में यू.एस डॉलर के साथ सोने में लगभग 6% विदेशी संचय से बने हैं ।

रेटिंग: 4.77
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 544
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *