बेस्ट ब्रोकर

टार्गेट मैच्योरिटी फंड्स क्या हैं

टार्गेट मैच्योरिटी फंड्स क्या हैं
एक सर्टिफाइड फाइनेंशियल प्लानर, और प्लान अहेड वेल्थ एडवाइज़र्स के CEO, विशाल धवन कहते हैं कि, "यह देखते हुए कि भारत में निश्चित-आय वाले निवेशक पारंपरिक रूप से अपनी निश्चित-आय के निवेश से तीन चीजें चाहते हैं - रिटर्न की पूर्वानुमेयता, निवेश होल्‍ड करने के लिए एक पूर्वनिर्धारित अवधि और आपात स्थिति के मामले में लिक्विडिटी, डेट टारगेट-डेट फंड्स निवेशकों के लिए उनके पोर्टफोलियो में देखने के लिए एक अच्छा विकल्प है।"

Gautam Adani at World Congress of Accountants Said India add a trillion dollar to GDP every 12-18 months

Mutual Fund : क्‍या ग्रैंडफादर डेट फंड में लगाना चाहिए पैसा? एक्‍सपर्ट से समझिए इस खास कैटेगरी में निवेश का नफा-नुकसान

नई दिल्‍ली. म्‍यूचुअल फंड (Mutual Fund) में निवेश लगातार बढ़ रहा है. पैसिव डेट फंड कैटेगरी में ही असेट अंडर मैनेजमेंट 1 लाख करोड़ रुपये हो चुकी है. पैसिव फंड कैटेगरी में भी टार्गेट मैच्‍योरिटी फंड में निवेशक खूब पैसा लगा रहे हैं और इसकी प्रबंधन के अधीन संपत्तियों (AUM) का मूल्‍य 65,000 करोड़ रुपये है. इससे पता चलता है कि टार्गेट मैच्‍योरिटी फंड की मांग निरंतर बढ़ रही है. इसी को देखते हुए अब कई फंड लॉन्‍ग टर्म स्‍कीम्‍स लॉन्‍च कर चुके हैं या बाजार में उतारने की तैयारी कर रहे हैं.

म्‍यूचुअल फंड इंडस्‍ट्री में अब एक नया ट्रेंड प्रचलन में आया है. अब फंड्स बहुत लंबी अवधि के टार्गेट मैच्‍योरिटी डेट फंड लॉन्‍च कर रहे हैं. इनकी परिपक्‍वता अवधि बहुत ज्‍यादा होने के कारण ही ग्रैंडफादर फंड (Grandfather Debt Funds) का नाम दिया गया है. आईडीएफसी एमएफ और एचडीएफसी एमएफ ने 29 साल और 40 साल की परिपक्वता अवधि वाले फंड लाने के लिए सेबी के पास आवेदन किया है.

टारगेट मैच्योरिटी डेट फंड्स: क्या इस समय निवेश का यह अच्छा विकल्प है?

  • Date : 23/05/2022
  • Read: 3 mins Rating : -->
  • Read in English: Are target maturity debt funds a good investment option at this time?

इन अशांत समय के बीच, सभी निवेश अनिश्चित लगते हैं। आप बिना किसी संदेह के किसमें निवेश कर सकते हैं? जानने के लिए पढ़ें

क्या इस समय टारगेट मैच्योरिटी डेट फंड्स निवेश का एक अच्छा विकल्प हैं

टारगेट मैच्योरिटी फंड्स, जिन्हें एक विशिष्ट परिपक्वता तिथि के साथ डेट फंड के रूप में भी जाना जाता है, अभी काफी लोकप्रिय हैं क्योंकि माना जाता है कि यह डेट स्पेस में मौजूदा अस्थिरता के माध्यम से नेविगेट करने का एक अच्छा तरीका है। म्यूचुअल फंड सलाहकार और फंड मैनेजर इस बात से सहमत हैं कि 10 साल के सरकारी यील्ड में बढ़ोतरी ने उन्हें उन लोगों के लिए विचार करने का एक अच्छा विकल्प बना दिया है जो कम समय अवधि के बजाय लंबी अवधि के लक्ष्य के लिए डेट म्यूचुअल फंड में निवेश करना चाहते हैं। वे हाल ही में म्यूचुअल फंड न्‍यूज़ में प्रचलित विषय रहे हैं।

अंतिम विचार

टारगेट मैच्योरिटी फंड्स उन लोगों के लिए निवेश करने का एक अच्छा तरीका है जो लंबी अवधि के वित्तीय लक्ष्यों की तलाश कर रहे हैं और बाजार में अल्पकालिक अस्थिरता को नज़रअंदाज़ कर सकते हैं।

टारगेट मैच्योरिटी फंड्स, जिन्हें एक विशिष्ट परिपक्वता तिथि के साथ डेट फंड के रूप में भी जाना जाता है, अभी काफी लोकप्रिय हैं क्योंकि माना जाता है कि यह डेट स्पेस में मौजूदा अस्थिरता के माध्यम से नेविगेट करने का एक अच्छा तरीका है। म्यूचुअल फंड सलाहकार और फंड मैनेजर इस बात से सहमत हैं कि 10 साल के सरकारी यील्ड में बढ़ोतरी ने उन्हें उन लोगों के लिए विचार करने का एक अच्छा विकल्प बना दिया है जो कम समय अवधि के बजाय लंबी अवधि के लक्ष्य के लिए डेट म्यूचुअल फंड में निवेश करना चाहते हैं। वे हाल ही में म्यूचुअल फंड न्‍यूज़ में प्रचलित विषय रहे हैं।

एडलवाइस म्यूचुअल फंड, मार्केटिंग और डिजिटल बिजनेस, के हेड प्रोडक्ट निरंजन अवस्थी ने कहा कि, "टारगेट मैच्योरिटी फंड्स निवेशकों को बॉन्ड के एक विशिष्ट सेगमेंट में अपने निवेश को लॉक-इन करने की अनुमति देते हैं, जहां मुनाफा आकर्षक होता है। वर्तमान में, 5 से 10 साल के बीच लंबी मैच्योरिटी सेगमेंट में मुनाफा बढ़ा है और 2026 से 2032 के मैच्योरिटी के साथ टारगेट मैच्योरिटी फंड में निवेश करना लंबी अवधि के निवेशकों के लिए एक उचित अवसर की तरह दिखाई देता है।"

टारगेट मैच्योरिटी म्यूचुअल फंड क्या हैं? SBI MF ने लॉन्च किए तीन फंड

SBI MF launches target maturity funds

एसबीआई म्यूचुअल फंड (एमएफ) ने पैसिव सेगमेंट में अपनी पेशकशों का और विस्तार करते हुए तीन टार्गेट मैच्योरिटी फंड (टीएमएफ) लॉन्च करने की घोषणा की है। फंड एसबीआई क्रिसिल आईबीएक्स गिल्ट इंडेक्स – जून 2036 फंड, एसबीआई क्रिसिल आईबीएक्स गिल्ट इंडेक्स – अप्रैल 2029 फंड, और एसबीआई क्रिसिल आईबीएक्स एसडीएल इंडेक्स – सितंबर 2027 फंड हैं।

टारगेट मैच्योरिटी फंड क्या हैं?

टारगेट मैच्योरिटी फंड डेट म्यूचुअल फंड की एक कैटेगरी है, जिसकी एक निश्चित मैच्योरिटी तारीख होती है, जो अंडरलाइंग इंडेक्स में शामिल बॉन्ड्स में निवेश करती है और मैच्योरिटी तक इसे होल्ड करके रखती है ताकि बाद में इनवेस्टर्स को रकम बांटी जा सके। ये फंड मुख्य रूप से सरकारी सिक्योरिटीज, एएए रेटेड सिक्योरिटीज और पीएसयू बॉन्ड जैसे उच्च रेटेड उपकरणों में निवेश करते हैं।

“मौजूदा बढ़ती ब्याज दर परिदृश्य में टीएमएफ निवेशकों के लिए एक अच्छा फिट हो सकता है क्योंकि ये फंड निवेशकों को मौजूदा बाजार प्रतिफल पर निवेश करने का अवसर दे रहे हैं। इसके अलावा, अगर निवेशक फंड की परिपक्वता तक निवेशित रहता है, तो यह ब्याज दरों के चक्र में बदलाव से जुड़े जोखिम के प्रबंधन में भी मदद कर सकता है। पारंपरिक निवेश के रास्ते की तुलना में, इन फंडों में अधिक तरलता होती है क्योंकि निवेशकों के पास किसी भी समय योजना में प्रवेश करने और बाहर निकलने टार्गेट मैच्योरिटी फंड्स क्या हैं की सुविधा होती है। एसबीआई म्यूचुअल फंड के डिप्टी एमडी और चीफ बिजनेस ऑफिसर डीपी सिंह ने कहा, ये फंड डेट फंडों द्वारा दिए गए इंडेक्सेशन बेनिफिट के कारण टैक्स कुशल रिटर्न देते हैं।

idfc mutual fund ने दो नए टारगेट मैच्योरिटी फंड लॉन्च किए

idfc mutual fund ने दो नए टारगेट मैच्योरिटी फंड लॉन्च किए

idfc mutual fund ने दो नए टार्गेट मैच्योरिटी फंड्स क्या हैं टारगेट मैच्योरिटी फंड लॉन्च किए

आईडीएफसी क्रिसिल आईबीएक्स 90:10 एसडीएल प्लस गिल्ट- नवंबर 2026 इंडेक्स फंड सोमवार, 14 नवंबर, 2022 को निवेश के लिए खुलेगा और बुधवार, 16 नवंबर, 2022 को बंद होगा। आईडीएफसी क्रिसिल आईबीएक्स 90:10 एसडीएल प्लस गिल्ट- अप्रैल 2032 इंडेक्स फंड सोमवार, 14 नवंबर, 2022 को निवेश के लिए खुलेगा और सोमवार, 28 नवंबर, 2022 को बंद होगा। निवेश लाइसेंसशुदा म्यूचुअल फंड वितरकों और ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के साथ-साथ सीधे https://idfcmf.com पर किया जा सकता है।

इस बारे में जानकारी देते हुए कि निवेशक अपने पोर्टफोलियो में स्टेट डेवलपमेंट लोन्स (एसडीएल) टारगेट मैच्योरिटी इंडेक्स फंड्स को शामिल करने पर विचार क्यों कर सकते हैं, श्री विशाल कपूर, सीईओ, आईडीएफसी एएमसी ने कहा कि ‘‘विवेकपूर्ण निवेशक समझते हैं कि एसेट एलोकेशन रणनीति के माध्यम से अपने निश्चित आय पोर्टफोलियो में विविधता लाना महत्वपूर्ण है। यह गुणवत्ता, उचित स्थिरता, तरलता और पारंपरिक निश्चित अवधि के उपकरणों की तुलना में अपेक्षाकृत अधिक रिटर्न अर्जित करने की क्षमता का बेहतरीन कॉम्बीनेशन प्रदान करेगा।’’

SBI Mutual Fund ने लॉन्च किया नया म्यूचुअल फंड, जानें आपके लिए इसमें क्या है खास

एसबीआई म्यूचुअल फंड ने एसबीआई सीपीएसई बॉन्ड प्लस एसडीएल सितंबर 2026 50:50 इंडेक्स फंड लॉन्च करने का ऐलान किया।

एसबीआई म्यूचुअल फंड ने सोमवार को एसबीआई सीपीएसई बॉन्ड प्लस एसडीएल सितंबर 2026 5050 इंडेक्स फंड लॉन्च करने का ऐलान किया जो निफ्टी सीपीएसई बॉन्ड प्लस एसडीएल सितंबर 2026 5050 इंडेक्स के घटकों में निवेश करने वाला एक ओपन-एंडेड टार्गेट मैच्योरिटी इंडेक्स फंड है।

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। एसबीआई म्यूचुअल फंड ने सोमवार को एसबीआई सीपीएसई बॉन्ड प्लस एसडीएल सितंबर टार्गेट मैच्योरिटी फंड्स क्या हैं 2026 50:50 इंडेक्स फंड लॉन्च करने का ऐलान किया, जो निफ्टी सीपीएसई बॉन्ड प्लस एसडीएल सितंबर 2026 50:50 इंडेक्स के घटकों में निवेश करने वाला एक ओपन-एंडेड टार्गेट मैच्योरिटी इंडेक्स फंड है। यह नया फंड ऑफर 3 जनवरी 2022 से 17 जनवरी 2022 तक खुलेगा। इस योजना का निवेश उद्देश्य रिटर्न प्रदान करना है, जो ट्रैकिंग एरर्स के अधीन अंटरलाइंग इंडेक्स द्वारा दर्शाए गई सिक्योरिटीज के कुल रिटर्न के साथ करीब से मेल खाए।

रेटिंग: 4.61
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 398
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *