भारत में क्रिप्टोकरेंसी व्यापार

एथेरियम क्यों

एथेरियम क्यों
भारत का पहला क्रिप्टोकरेंसी इंडेक्स लॉन्च हो गया है

जानिए क्यों बिटकॉइन और एथेरियम जैसी दो बड़ी क्रिप्टोकरेंसी की जगह डॉगकोइन का किया गया उपयोग!

बिटकॉइन और एथेरियम जैसी दो बड़ी क्रिप्टोकरेंसी के डाउन होने के बाद डॉगकोइन को एक विकल्प के रूप में इस्तेमाल किया जाने लगा। यह मार्केट में 14वीं रैंक रखता है। डॉगकोइन में ट्रेड की बड़ी मात्रा शामिल है। एक दिन के दौरान इसकी ट्रेडिंग वॉल्यूम 40.4% के आसपास देखी गई थी, जो बिटकॉइन, 11.6% और एथेरियम, 28.8% से ज्यादा थी।

Dogecoin – कमाई का सबसे अच्छा तरीका

डॉगकोइन को नियंत्रित सप्लाई के लिए जाना जाता है। यह हर साल एक माइनिंग प्रोसेस के जरिए अपने कॉइन जारी करता है (लगभग 36.7 हजार करोड़ कॉइन)। केवल 2.1 करोड़ कॉइन का उपयोग किया जा सकता है। उदाहरण के लिए – 18.36 मिलियन बिटकॉइन का उपयोग किया गया है और यह उन लोगों के पास है जो इन्हें होल्ड करते हैं। इसका मतलब पूरी सप्लाई में से केवल 26.4 लाख बिटकॉइन का ही उपयोग कर सकते हैं। आने वाले समय में, एक होर्डिंग सभी ब्लॉकचेन लेनदेन के लिए करंसी के उपयोग को सीमित कर सकता है।

एथेरियम और डॉगकोइन

Ethereum की सप्लाई और कॉइन की कोई लिमिट नहीं है जो उपयोग की जा सकती हैं। मुख्य प्लस प्वॉइंट इस पर निर्भर करता है, कि सभी लेन-देन के लिए एक क्रिप्टोकरेंसी के रूप में उपयोग किया जाए। डॉगकोइन इन दो करंसी के अंदर आता है। डॉगकोइन एक क्रिप्टोकरंसी के रूप में इस्तेमाल होने की क्षमता रखता है, क्योंकि मार्केट में इसकी सप्लाई बढ़ रही है। बिटकॉइन और एथेरियम की तुलना में इसके बहुत अधिक लाभ हैं।

Ethereum Killer: एक्सपर्ट ने बताया ETH से क्यों बेहतर हैं ये 4 Cryptocurrency

Ethereum Killer: Crypto मार्केट का विकास लगातार जारी है। आज के टाइम पर Ethereum बहुत पॉपुलर है, मगर कई क्रिप्टो कॉइन्स को Ethereum Killer माना जा रहा है। ये क्रिप्टो करेंसी एथेरियम की कमियों में सुधार करती हैं। इन्वेस्टमेंट बैंकिंग कम्पनी JPMorgan ने ऐसे 4 Ethereum Killer coins के बारे में बताया है, जिनके बारे में हम यहां लिख रहे हैं।

  • Mohammad Faisal
  • @itsmeFSL
  • Published on: January 10, 2022 8:36 PM IST

क्या हैं Ethereum Killer?

क्या हैं Ethereum Killer?

Ethereum को बहुत सारे संस्थान डिजिटल करेंसी के रूप में एक्सेप्ट करते हैं। इनमें NFT की गैस फी भी शामिल है। मगर इस क्रिप्टोकरेंसी में कुछ कमियां हैं, जिन्हें दूसरे ऑल्टकॉइन दूर करते हैं। JPMorgan के मुताबिक, ये नए प्रोटोकॉल Ethereum के मार्केट में सेंध लगा सकते हैं। इनमें शामिल हैं-- Solana, Cardano, Polkadot, Tezos। (पिक्चर: Pixabay/ vjkombajn)

Solana (SOL) ज्यादा फास्ट है

Solana (SOL) ज्यादा फास्ट है

JPMorgan ने मुताबिक, Solana दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ने वाली क्रिप्टोकरेंसी में से एक है। इसके डेवलपर्स का कहना है कि यह 50,000 ट्रांजैक्शन प्रति एथेरियम क्यों सेकंड (TPR) सपोर्ट करता है, जबकि Ethereum की स्पीड 15-45 TPS है। Solana पर इस वक्त 400 से ज्यादा प्रोजेक्ट चल रहे हैं।

Participate & Win Rs.5000 Freecharge Voucher!

BGR.in (Broad Guidance & Ratings) is a leading online destination for all things technology including news related to smartphones, smart TVs, smartwatches, TWS earbuds, latest games and apps, and the general consumer electronics markets. It is among India’s top sources of breaking mobile news, and a technology category leader among early adopters, savvy technophiles, and casual readers alike.

16000 डॉलर के पार ट्रेड कर रहा है Bitcoin, पिछले 24 घंटों में ग्लोबल क्रिप्टो मार्केट कैप में 1% से अधिक की तेजी

एक ओर जहां बिटकॉइन मंगलवार को 1 पर्सेंट की तेजी के साथ 16,359 डॉलर पर ट्रेड कर रही है तो दूसरी ओर एथेरियम ब्लाकचेन की ईथर 1.5 पर्सेंट से तेजी के साथ 1,192 डॉलर पर ट्रेड कर रही है।

16000 डॉलर के पार ट्रेड कर रहा है Bitcoin, पिछले 24 घंटों में ग्लोबल क्रिप्टो मार्केट कैप में 1% से अधिक की तेजी

साल 2022 की शुरुआत से ही ग्लोबल क्रिप्टो मार्केट कैप में उतार-चढ़ाव जारी है। हालांकि, मगंलवार को ग्लोबल क्रिप्टो मार्केट कैप में तेजी दिखाई दी। बिटकॉइन (Bitcoin) और ईथर (Ether) जैसी बड़ी क्रिप्टोकरेंसी भी तेजी के साथ ट्रेड कर रही है। एक ओर जहां बिटकॉइन एथेरियम क्यों मंगलवार को 1 पर्सेंट की तेजी के साथ 16,359 डॉलर पर ट्रेड कर रही है तो दूसरी ओर एथेरियम ब्लाकचेन की ईथर 1.5 पर्सेंट से तेजी के साथ 1,192 डॉलर पर ट्रेड कर रही है। हालांकि, मंगलवार को ग्लोबल क्रिप्टो मार्केट कैप 1 ट्रिलियन डॉलर के नीचे ट्रेड कर रहा है। लेकिन CoinGecko के अनुसार पिछले 24 घंटों में ग्लोबल मार्केट कैप 1.3 पर्सेंट की तेजी के साथ 8,64 बिलियन डॉलर पर ट्रेड कर रहा है।

17,600 के पार ट्रेड कर सकती है बिटकॉइन
क्रिप्टो मार्केट में आई इस तेजी के बाद क्रिप्टो एक्सपर्ट Mudrex के सीईओ और को–फाउंडर इदुल पटेल कहते हैं कि पिछले 24 घंटों में ज्यादातर डिजिटल टोकन में तेजी आई एथेरियम क्यों है। बिटकॉइन अभी 16,200 डॉलर के ऊपर ट्रेड कर रही है। अगर बिटकॉइन में इसी तरह तेजी जारी रहती है तो जल्द ही हम इसे 17,622 डॉलर रेसिस्टेंस के ऊपर ट्रेड करते हुए देखेंगे। दूसरी ओर पिछले 24 घंटों में ईथर के प्राइस में 1.27 पर्सेंट की तेजी आई है। इसके बाद ऐसा लगता है की बायर्स को ईथर के 1,300 डॉलर एथेरियम क्यों के ऊपर ट्रेड करने के लिए लगातार इसे डिफेंड करना चाहिए।

Dogecoin में देखी गई 9 पर्सेंट की तेजी
इसके अलावा डॉगकॉइन (Dogecoin) मंगलवार को 9 पर्सेंट की तेजी के साथ ट्रेड कर रही है। एक ओर जहां मंगलवार को डॉगकॉइन 0.10 डॉलर पर ट्रेड कर रहा है तो दूसरी ओर शीबा इनु (Shiba Inu) 2 पर्सेंट की तेजी के साथ 0.000009 डॉलर पर ट्रेड कर रही है। इसके अलावा पिछले 24 घंटों में सोलोना, टीथर, यूनिस्वैप, स्टेलर, पोल्काडॉट, एक्सआरपी, ट्रॉन, कार्डानो, चेनलिंक, एपीकॉइन, लिटकॉइन, और पॉलीगॉन जैसे डिजिटल टोकन भी तेजी के साथ ट्रेड कर रहे हैं।

भारत का पहला क्रिप्टोकरेंसी इंडेक्स लॉन्च, इसमें बिटकॉइन, एथेरियम और सीबा इनु जैसी 15 क्रिप्टो शामिल

IC15 Crypto Index: इंडेक्स कीबेस वैल्यू 10,000 पर सेट और बेस डेट 1 अप्रैल 2018 है. 1 जनवरी 2022 तक इंडेक्स ओपन वैल्यू 71,463.30 पॉइंट थी. कंपनी ने कहा कि इंडेक्स बाजार की 80 प्रतिशत से ज्यादा गतिविधियों को कवर करता है. यह एक क्रिप्टो के बाजार को ट्रैक करने का सबसे अच्छा टूल है.

भारत का पहला क्रिप्टोकरेंसी इंडेक्स लॉन्च हो गया है

भारत का पहला क्रिप्टोकरेंसी इंडेक्स लॉन्च हो गया है

gnttv.com

  • मुंबई,
  • 05 जनवरी 2022,
  • (Updated 05 जनवरी 2022, 5:10 PM IST)

कंपनी का दावा 80% से ज्यादा बाजार कवर किया

ब्लॉकचेन इकोसिस्टम का नॉलेज बढ़ाना मकसद

India's First Cryptocurrency Index IC15: क्रिप्टोकरेंसी को ट्रैक करने के लिए भारत का पहला क्रिप्टोकरेंसी इंडेक्स लॉन्च हो गया है. मुंबई की फाइनेंशियल कंटेट प्रोवाइडर कंपनी टिकरप्लांट ने अपने ऐप क्रिप्टोवायर के जरिए इसे लॉन्च किया है. इसे आईसी-15(IC15) नाम दिया गया है. कंपनी के मुताबिक यह दुनियाभर के 15 नामी लिक्विड क्रिप्टोकरेंसी के परफॉर्मेंस को ट्रैक करता है और बाजार के नियमों पर आधारित व्यापक मार्केट इंडेक्स है.

आईसी-15 के इंडेक्स के टॉप क्रिप्टोकरेंसी में बिटकॉइन, एथेरियम, बिटकॉइन कैश, चेन लिंक, पोल्का डॉट, कार्डानो, लिटेकॉइन, एवलॉन्च, बाइनेंस कॉइन, सोलाना, एक्सआरपी, सीबा इनु, टेरा, यूनीस्वैप और डोजीकॉइन शामिल हैं.

कंपनी का दावा 80% से ज्यादा बाजार कवर किया
इंडेक्स की बेस वैल्यू 10,000 पर सेट और बेस डेट 1 अप्रैल 2018 है. 1 जनवरी 2022 तक इंडेक्स ओपन वैल्यू 71,463.30 पॉइंट थी. कंपनी ने कहा कि इंडेक्स बाजार की 80 प्रतिशत से ज्यादा गतिविधियों को कवर करता है. यह एक क्रिप्टो के बाजार को ट्रैक करने का सबसे अच्छा टूल है.

ब्लॉकचेन इकोसिस्टम का नॉलेज बढ़ाना मकसद
कंपनी का कहना है कि आईसी-15 इंडेक्स (Crypto Index IC15) को लॉन्च करने का उद्देश्य पूरे क्रिप्टो और ब्लॉकचेन इकोसिस्टम के नॉलेज सर्किल को बढ़ाना है. क्रिप्टोवायर के मैनेजिंग डायरेक्टर और चीफ एग्जीक्यूटिव ऑफिसर जिगीश सोनागारा ने बताया कि इंडेक्स के जरिए सीखकर बेहतर तरीके से कमाई की जा सकती है.

दिसंबर 2021 को लॉन्च किया था क्रिप्टोवायर
टिकरप्लांट ने दिसंबर 2021 में सुपर ऐप क्रिप्टोवायर लॉन्च किया था. यह क्रिप्टो यूजर्स को रियल टाइम मार्केट प्राइस, न्यूज, नॉलेज और रिसर्च के बारे में बताता है. टिकरप्लांट क्रिप्टो यूनिवर्सिटी नाम के अपने क्रिप्टो यूट्यूब चैनल के जरिए डिजिटल लेन देन सीखने में मदद करता है.

रेटिंग: 4.24
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 514
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *